जालौन में मनाया गया रानी लक्ष्मीबाई का जन्मदिवस:जिला एकीकरण समिति ने मनाया अखंडता दिवस, प्रतिमा पर माल्यार्पण कर निकाली गई पदयात्रा

जालौन6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जालौन में रानी लक्ष्मीबाई की प्रतीमा पर किया गया माल्यार्पण। - Dainik Bhaskar
जालौन में रानी लक्ष्मीबाई की प्रतीमा पर किया गया माल्यार्पण।

जालौन में जिला एकीकरण समिति के नेतृत्व में अखंडता दिवस के रूप में रानी लक्ष्मीबाई का जन्मदिवस मनाया गया। लोगों ने उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर पदयात्रा निकाली। कहा कि उनके बलिदान को देश कभी भुला नहीं पाएगा। साथ ही उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित भी की है।

सभी से प्रतिबद्ध रहने की गई अपील

जिले में जिला एकीकरण समिति के नेतृत्व में कौमी एकता सप्ताह के तहत शुक्रवार को रानी लक्ष्मीबाई की जयंती अखंडता दिवस के रूप में मनाई गई। सुबह झलकारी बाई प्रतिमा स्थल से लक्ष्मीबाई की प्रतिमा तक प्रभातफेरी निकाली गई। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष घनश्याम अनुरागी ने कहा कि देश के लिए रानी लक्ष्मीबाई के बलिदान को यह देश कभी नहीं भुला पाएगा। उन्होंने समाज सौमनस्य बनाये रखने के लिए प्रतिबद्ध रहने की अपील भी की।

उनकी वीरता को अंग्रेजों को भी नमन करना पड़ा था

रानी लक्ष्मीबाई की जयंती पर आज कोंच बस स्टैंड स्थित वीरांगना झलकारी बाई की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर जिला पंचायत अध्यक्ष घनश्याम अनुरागी के नेतृत्व में पदयात्रा निकाली गई। मार्ग में विभिन्न महापुरुषों की प्रतिमाओं को नमन करते हुए पदयात्री टाउन हाल के सामने रानी लक्ष्मी बाई के प्रतिमा स्थल तक पहुंची। जहां रानी लक्ष्मीबाई को माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष घनश्याम अनुरागी ने संबोधित करते हुए कहा कि रानी लक्ष्मीबाई की वीरता को अंग्रेजों को भी नमन करना पड़ा था।

खबरें और भी हैं...