जालौन में पुलिस की गुंडागर्दी:छापेमारी के लिए गलत घर में घुसे, लोगों से मारपीट की, 17 हजार रुपए छीने, जान से मारने की धमकी दी

जालौन6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीड़ित ने की शिकायत। - Dainik Bhaskar
पीड़ित ने की शिकायत।

जालौन में पुलिस की गुंडई सामने आई है। जहां एक आरोपी की तलाश में घूम रही कुठौंद और एसओजी टीम ने एक घर में छापेमारी की। जिसका विरोध घर के लोगों ने किया, तो उसके साथ मारपीट करते हुए घर में तोड़फोड़ की। ये पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। जिस पर पुलिस ने डीबीआर को जब्त कर घर के मालिक को जान से मारने की धमकी दी। पीड़ित ने बुधवार को जालौन के पुलिस अधीक्षक कार्यालय में प्रार्थना पत्र देते हुए शिकायत की है।

जबरन घर में घुसे

मामला कुठौंद थाना क्षेत्र के ग्राम रणधीरपुर का है। यहां के रहने वाले आकाशदीप सिंह ने जालौन के पुलिस अधीक्षक रवि कुमार के कार्यालय में प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि बीती रात वो और उसकी मां घर पर थी। तभी रात 3 बजे के आसपास एक दर्जन पुलिसकर्मी उनके घर में जबरन घुस आए। वो लोग घर में छानबीन करने लगे।

डीवीआर की जब्त

पीड़िता ने जब इसकी वजह पूछी तो पुलिस वाले मारपीट करने लगे। साथ ही कमरे में बेड के नीचे रखे 17 हजार रुपए भी पुलिस वालों ने उठा लिए। ये पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। जहां पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे का डीवीआर भी जब्त कर लिया।

बातचीत की रिकॉर्ड

पीड़ित आकाशदीप ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में प्रार्थना पत्र देते हुए बताया कि घर में घुसे पुलिसकर्मी कुठौंद थाने में तैनात उपनिरीक्षक और एसओजी प्रभारी थे। इन सभी की बातचीत का ऑडियो उसने रिकॉर्ड कर लिया।

मामले में जालौन के पुलिस अधीक्षक रवि कुमार से संपर्क करना चाहा तो वो चुनाव आयोग की बैठक में लखनऊ गए हुए थे। मामले में अन्य आला अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं।

खबरें और भी हैं...