जालौन में बकाए के भुगतान को लेकर मारपीट:बीजेपी सेक्टर प्रभारी और दुकानदार के बीच विवाद, बाद में दोनों पक्षों में हो गया समझौता

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सीसीटीवी में कैद हो गई मारपीट की घटना। - Dainik Bhaskar
सीसीटीवी में कैद हो गई मारपीट की घटना।

जालौन में सत्ताधारी बीजेपी के सेक्टर प्रभारी और दुकानदार के बीच मारपीट का वीडियो सामने आया है। आरोप है कि दुकानदार ने बीजेपी के सेक्टर प्रभारी से उधार के रुपये मांगे तो बीजेपी नेता ने अपने भाई और साथियों के साथ मिलकर मारपीट की। इसके साथ ही गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी। हंगामे और मारपीट की यह तस्वीर सीसीटीवी में कैद हो गई। हालांकि, मामले में दोनो पक्षों में समझौता हो गया।
दुकानदार बोला- एक लाख 6 हजार रुपये हैं बकाया
मामला कोंच कोतवाली क्षेत्र के जवाहर नगर मियागंज का है। जहां पर राजीव अग्रवाल उर्फ रिंकू पुत्र सतीश चंद्र अग्रवाल की इलेक्ट्रॉनिक की दुकान है। राजीव ने बताया कि बीजेपी के सेक्टर प्रभारी नरेंद्र कुमार विश्वकर्मा पुत्र कढोरे पांचाल ने 1 लाख 6 हजार का उधार सामान लिया था। इसके बाद नरेंद्र ने बकाया नहीं चुकाया है। एक जनवरी को नरेंद्र को फोन करके बकाए के भुगतान की मांग की । आरोप है कि इस पर बीजेपी के कोंच सेक्टर प्रभारी नरेंद्र कुमार विश्वकर्मा बौखला गए।
दुकानदार पर आकर मारपीट का आरोप
राजीव ने बताया कि वह अपने भाई संतोष कुमार विश्वकर्मा और चार अन्य साथियों के साथ दुकान पर आए और दुकानदार राजीव को धमकाया। इसका जब विरोध किया तो बीजेपी के सेक्टर प्रभारी नरेंद्र कुमार विश्वकर्मा और उसके भाई संतोष कुमार ने मारपीट की। मौके पर मौजूद लोगों ने बीच-बचाव किया। मारपीट की पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई।
दोनों पक्षों में हो गया समझौता
वहीं इस मामले में बीजेपी के सेक्टर प्रभारी नरेंद्र कुमार विश्वकर्मा ने कहा कि दुकानदार राजीव अग्रवाल ने उनके भाई के नाम से अकाउंट खुलवाया था। इससे क्रेडिट कार्ड लिया था, जिसमें उन्होंने दो लाख से ऊपर का ट्रांजेक्शन किया और उसके रुपये की भरपाई मेरे भाई ने कराई। इस बात को लेकर विवाद हुआ था। उन्होंने कहा कि किसी प्रकार की कोई मारपीट उनके और भाई द्वारा नहीं की गई है। बल्कि दुकानदार राजीव अग्रवाल ने खुद उन्हें फोन करके धमकाया गया। दोनों पक्षों के बीच कोतवाली में समझौता हो गया है। वहीं कोंच सर्किल की सीओ शाहिदा नसरीन ने कहा कि मामला आपसी विवाद का है। इस मामले में जांच की जा रही है।