जालौन में ई-पॉश मशीनों के जरिए बिकेगी शराब:ग्राहक को देने से पहले शराब की बोतल की स्कैनिंग होगी, DM बोलीं- अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगेगी

जालौन2 महीने पहले
ठेके पर बोतल की स्कैनिंग के बाद होगी बिक्री।

यूपी की योगी सरकार ने अवैध शराब की बिक्री रोकने के को लेकर कड़ा कदम उठाया है। जिसको लेकर जालौन में चोरी छुपे हो रही शराब के ठेकों पर मिलावटी शराब की बिक्री नहीं हो सके।

इसके लिए आबकारी विभाग ने कमर कसते हुए हर अंग्रेजी देशी और बीयर के ठेके पर ई पॉश मशीन की सुविधा शुरू कर दी है, जिससे सरकारी शराब ठेके पर ग्राहक को देने से पहले स्कैन करके ही दिया जाये, अगर किसी ठेके में मौजूद शराब पर छेड़छाड़ की जाती है, तो वह बोतल उस मशीन से स्कैन नहीं होगी, जिससे उसकी बिक्री नहीं हो सकेगी।

ऑनलाइन दर्ज होगा रिकॉर्ड

इसी को लेकर आबकारी विभाग ने आज सरकारी ठेकेदारों को बुलाकर ई पॉश मशीन उपलब्ध कराई है, जिससे सभी ठेकों पर इसे लागू किया जा सके। स्कैन की गई प्रक्रिया का रिकॉर्ड ऑनलाइन भी दर्ज किया जाएगा, जिसे आबकारी विभाग के अधिकारी अपने कंप्यूटर पर बैठकर नजर रख सकेंगे। इस पूरी प्रक्रिया से मिलावटी शराब पर बिक्री की रोक लगेगी, साथ ही सरकार द्वारा एलॉट हर्ट ठेके पर शराब की बिक्री का ब्यौरा और स्टॉक भी उसी दिन ऑनलाइन दर्ज हो जाएगा।

अवैध रूप से बिकने वाली शराब पर लगेगी रोक

इसके अलावा बंदी के दिन भी ठेकों पर बिकने वाली शराब पर पूर्ण रूप से रोक लग जाएगी। जिला आबकारी अधिकारी केपी यादव ने बताया शराब के ठेकों पर जितना भी स्टॉक ठेकेदार उठाता है उसका ऑनलाइन रिकॉर्ड दर्ज किया जाएगा, इसके साथ ही ई पोस मशीन से ठेके पर बिक्री होने वाली अवैध और मिलावटी शराब पर पूर्ण रूप से रोक लग सकेगी।

ई-पॉश मशीन के जरिए शराब की बोतल स्कैन होगी

वहीं इस मामले में जालौन की जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने बताया कि जनपद में अवैध शराब की बिक्री रोकने के लिए इस तरीके का कदम उठाया है, जब सभी ठेकों पर ही ई पॉश मशीन होगी, उसे बोतल की स्कैनिंग की जाएगी उसे न तो मिलावट हो पाएगी और न ही कोई दूसरी शराब बेची जा सकेगी।