जालौन पहुंची प्रसपा की परिवर्तन यात्रा:शिवपाल बोले- गठबंधन के लिए पहली पसंद समाजवादी पार्टी, भाजपा को हटाना अंतिम लक्ष्य

जालौनएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जालौन पहुंची प्रसपा की परिवर्तन यात्रा। - Dainik Bhaskar
जालौन पहुंची प्रसपा की परिवर्तन यात्रा।

जालौन में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विधायक शिवपाल यादव सामाजिक परिवर्तन यात्रा लेकर पहुंचे। जहां उन्होंने भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला। साथ ही कहा कि गंठबंधन के लिए उनकी पहली पसंद समाजवादी पार्टी है। वह 2022 का चुनाव छोटे दलों और सेकुलर पार्टियों के साथ मिलकर लड़ेंगे।

बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण
जिले के कालपी पहुंचे शिवपाल यादव ने एक जनसभा को संबोधित किया। इस के बाद उनकी सामाजिक परिवर्तन यात्रा उरई पहुंची। जहां उन्होंने अंबेडकर चौराहे पर बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा का माल्यार्पण किया। उन्होंने कही कि उनका मुख्य मकसद भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकना है। यह उनकी पहली प्राथमिकता है। आगे कहा कि समाजवादी पार्टी उनकी पहली पसंद है और समाजवादी पार्टी से वह गठबंधन करेंगे। उन्होंने कहा कि वह सेकुलर पार्टियों से और छोटे-छोटे दलों से गठबंधन करके वह 2022 का चुनाव लड़ेंगे।

केंद्र सरकार के पड़ोसियों से नहीं हैं अच्छे संबंध
वहीं उन्होंने केंद्र सरकार पर हमला बोलते कहा है कि केंद्र की विदेश नीति फेल हुई है। केंद्र की बीजेपी सरकार पड़ोसियों से अच्छे संबंध नहीं बना पाई। सत्ता में आने से पहले सरकार ने कहा था कि चीन और पाकिस्तान से वह अपनी जमीन वापस करा लेंगे, लेकिन सरकार का यह दावा झूठा निकला। केंद्र सरकार ने जवानों को शहीद करा दिया, मगर 1 इंच भी जमीन पाकिस्तान और चीन से वापस नहीं ले पाए। भाजपा किसान और जवान का बलिदान भूल रही है। सीमा पर जवान और खेत पर किसान लगातार काम करते हैं। जवान सीमा पर रहकर देश की रक्षा करता है और किसान पूरे देश का पेट पालता है। इस सरकार ने दोनों लोगों के लिए कोई भी काम नहीं किया है।

कहा- मुलायम सिंह के समय घर तक पहुंचाए जाते थे शहीदों के शव
उन्होंने कहा कि जब केंद्र में रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव थे। तब शहीद जवानों के शवों को उनके घर तक पहुंचाया जाता था। उनके परिजनों को नौकरी दी जाने लगी थी। तथा भरण-पोषण के लिए राहत राशि भी दी जाने लगी थी। इस सरकार में किसानों और जवानों की स्थिति खराब है। जवान को केंद्र सरकार लगातार शहीद करा रही है, लेकिन जवानों के हित के लिए कोई भी काम नहीं कर रही है।

खबरें और भी हैं...