जालौन में खराब सड़कों से लोग परेशान:15 किलोमीटर का रास्ता 1 घंटे में होता है पूरा, सरकार का 2 अक्टूबर तक गड्ढे भरने का वादा रहा अधूरा

जालौन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सरकार ने कागज पर भर दिए सड़कों के गड्ढे। - Dainik Bhaskar
सरकार ने कागज पर भर दिए सड़कों के गड्ढे।

प्रदेश सरकार ने 15 सितंबर से 2 अक्टूबर के बीच में पूरे प्रदेश की सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का वादा किया था, लेकिन जालौन में गढ्डा मुक्त सड़के तो दूर की बात है, यहां पर अभी सड़कों को ठीक करने का काम भी नहीं शुरू हुआ।

खराब सड़कों से लोगों का समय होता है बर्बाद।
खराब सड़कों से लोगों का समय होता है बर्बाद।

सड़क पर केवल दिखाई देते हैं गड्ढे

जालौन के कोंच तहसील के अंतर्गत आने वाली नदीगांव सड़क पर केवल गड्ढे ही गड्ढे दिखाई देते हैं। नदीगांव रोड पर स्थित गांव कंहरी से बसीठ तक जाने वाले संपर्क मार्ग पर गड्ढे ही गड्ढे भरे हुए हैं। ऐसा ही हाल कोंच से झांसी तक जाने वाली एट-कोंच सड़क का है। ये सड़क पूरी तरह से खराब हो चुकी है। यहां से गुजरने वाले लोगों का कहना है कि गड्ढे होने के कारण हमारा बहुत समय बर्बाद होता है। साथ ही दुर्घटना होने का डर भी बना रहता है। सालों से सड़कों का ऐसा ही हाल है। कोई भी सरकार यहां पर काम नहीं करवाती है। मामले में पीडब्ल्यूडी विभाग के अधीक्षण अभियंता बीके राय ने बात करने से मना कर दिया।

कोंच तहसील के अंतर्गत आने वाले गांव बसीठ के ग्रामीण रमेश, दिनेश, पवन, राजे, चंद्रशेखर, धीरेंद्र, लल्लू सिंह, राजकुमार सहित कई ग्रामीणों ने बताया कि सड़कें सिर्फ हवा में बन रही हैं। यहां सड़कों की हालत खराब है। गड्ढे अभी तक भरे नहीं गए हैं। 15 किलोमीटर का रास्ता 1 घंटे में पूरा होता है। और कई बार हादसे भी हो चुके हैं, लेकिन सरकार ने अभी तक सड़क बनाने का काम शुरू नहीं किया है।

खबरें और भी हैं...