जालौन...किसानों के साथ कई विपक्षी दलों ने किया प्रदर्शन:नेताओं ने कहा- किसानों की इस लड़ाई में हम उनके साथ हैं, कोई उनको अकेला न समझे

जालौन4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
किसानों ने सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा ज्ञापन। - Dainik Bhaskar
किसानों ने सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा ज्ञापन।

कृषि बिल के विरोध में सोमवार को देशभर में भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसानों ने भारत बंद का आह्वान किया। जालौन में किसान संगठनों के साथ विपक्षी दल किसानों के समर्थन में आए और भारत बंद में शामिल हुए। विपक्षी दलों ने कहा कि इस बार आर-पार की लड़ाई में किसान अकेले नहीं हैं, बल्कि सभी लोग उनके साथ हैं।

सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

जालौन में भारत बंद की अगुवाई भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बलराम लंबरदार ने की। जिनके नेतृत्व में कई किसानों के साथ विपक्षी पार्टियों ने भारत बंद का का समर्थन सड़क पर उतरकर किया। साथ ही सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

पीएम को सौंपा 7 सूत्रीय ज्ञापन

किसानों ने यह प्रदर्शन झांसी रोड से अंबेडकर चौराहे तक किया। किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात किया गया। जिससे किसानों का भारत बंद का असर ज्यादा न हो सके। किसानों ने इस दौरान सिटी मजिस्ट्रेट सुनील कुमार शुक्ला के माध्यम से पीएम को 7 सूत्रीय ज्ञापन भेजा।

किसान को मिले बिजली के दामों में छूट

मांग की गई की सरकार तीनों कृषि बिल वापस ले। साथ ही पूरे देश में एक समान बिजली की दर किसानों के लिए लागू करे। इसके अलावा किसानों पर जो मुकदमें दर्ज किए गए हैं, उनको भी सरकार वापस करे। वहीं कृषि यंत्र पर छूट दी जाए और एमएसपी कानून बनाया जाए। यदि उसे कम कोई भी खरीद करता है तो उसके खिलाफ मुकदमा पंजीकृत किया जाए। डीजल पेट्रोल और रसोई गैस में की गई बढ़ोतरी को वापस लिया जाए। जिससे किसानों पर भारी बोझ न पड़ सके।

खबरें और भी हैं...