जालौन में मिला आरपीएफ दरोगा का शव:कई दिनों से घर से चल रहा था लापता, परिजनों ने जताया हत्या का शक

जालौन2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जालौन में मिला आरपीएफ दरोगा का शव। - Dainik Bhaskar
जालौन में मिला आरपीएफ दरोगा का शव।

जालौन की एट रेलवे जंक्शन के पास आरपीएफ में तैनात एक दरोगा का शव मिला है। वह पिछले कई दिनों से लापता चल रहा था। मामले की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी। हादसे की सूचना मिलने पर परिजन मौके पर पहुंचे। उन लोगों ने दरोगा की हत्या की आशंका जताई है।

रेलवे स्टाफ ने पेट्रोलिंग करते वक्त देखा शव
जिले के एट थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले एट रेलवे जंक्शन के पास रेलवे लाइन पर पेट्रोलिंग कर पटरियों की जांच कर रहे रेलवे स्टाफ को शव पड़ा दिखा। उन्होंने शव को क्षति-विक्षत अवस्था मे पड़ा देखा। इसकी जानकारी उनलोगों ने अपने उच्च अधिकारियों को दी। आरपीएफ और जीआरपीएफ की टीम मौके पर पहुंची और शव की तलाशी ली। तो मृतक के कपड़ों की जेब में आई कार्ड मिला। जो कि रेलवे पुलिस के हमीरपुर निवासी एसआई शिशुपाल भदौरिया का था। जो कि मध्य रेलवे पुणे की रेलवे की रिजर्व कंपनी में तैनात था।

पिता ने कहा- बेटे की हुई है हत्या
रेलवे पुलिस की सूचना पर मृतक के पिता नारायण सिंह मौके पर पहुंचे। उन्होंने अपने बेटे की हत्या की आंशका जाहिर की। बताया कि अवैध संबंधों के चलते उनके बेटे की हत्या की आशंका है।

21 सितंबर से चल रहा था लापता
मृतक के पिता के अनुसार मृतक रेलवे पुलिस में एसआई के पद पर पुणे में तैनात था। जो कि 21 सितंबर को छुट्टी लेकर निकला था लेकिन वह उसी समय से गायब चल रहा था। इसकी सूचना उन्हें भी नहीं दी गई। वह अवैध संबंध में कानपुर में रहता है। उसकी हत्या की गई है। उसकी हत्या कर शव को एट रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया है।
वही घटना स्थल पर पहुंचे झांसी रेलवे कमांडेंट आलोक कुमार ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला ट्रेन से गिर कर मौत होने का लग रहा है। वहीं परिजनों के आरोप के मामले में बताया कि यह जांच का विषय है। पूरे मामले की जांच उरई रेलवे को सौंप दी गई है।

खबरें और भी हैं...