अन्य:होरैया गांव में हाईकोर्ट के निर्देश पर विकास कार्यों में भ्रष्टाचार की अधिकारी ने किया जांच, शिकायतकर्ता ने पक्षपात का लगाया आरोप

मडियाहूँ12 दिन पहले

मड़ियाहूं तहसील के रामनगर विकास खंड अन्तर्गत ग्राम पंचायत होरैया में विकास कार्यों में हुई धांधली को लेकर माननीय उच्च न्यायालय के निर्देश पर जिला विकास अधिकारी ने खंड विकास अधिकारी रामनगर द्वारा गठित टीम के साथ मौके पर पहुंचकर जांच किया। गांव में विकास के बीच घोटाले के लिए आगे आया युवक होरैया गांव में दो पंचवर्षीय ग्राम प्रधान सत्य प्रकाश सिंह मुन्ना रहे। इसी गांव निवासी युवक गौरव सिंह ने पूर्व के दो पंचवर्षीय कार्यकाल में विकास कार्यों में किए गए घोटाले की जांच कराने के लिए सारे झंझावटों को दरकिनार करते हुए आगे बढ़ा। और माननीय उच्च न्यायालय में वाद दाखिल किया। गांव में विकास कार्यों में भ्रष्टाचार की जांच के लिए हुआ आदेश माननीय उच्च न्यायालय में वाद दाखिल होते ही मामले को संज्ञान में लेते हुए ग्राम प्रधान के विकास कार्यों की जांच करने हेतु जिलाधिकारी को निर्देश दिया। गुरुवार की अपराह्न जिला विकास अधिकारी, वीडीओ रामनगर नीतीन कुमार कुशवाहा, ग्राम पंचायत विकास अधिकारी, वर्तमान ग्राम प्रधान की गठित टीम द्वारा जांच कर बारी बारी से विकास कार्यों का निरीक्षण किया गया। शिकायतकर्ता एवं उनकी चाची ने जांच अधिकारी के ऊपर जांच प्रभावित करने का लगाया आरोप शिकायतकर्ता गौरव एवं उनकी चाची निर्मला देवी ने आरोप लगाया कि शौचालय, बकरी शेड, तालाब, पुलिया निमार्ण, नाले की सफाई में काफी भ्रष्टाचार हुआ है लेकिन केवल तालाब की खुदाई एवं सुंदरीकरण की जांचकर अधिकारी भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रहे। इसकी शिकायत हम पुनः माननीय उच्च न्यायालय से करेंगे। जांच के बाद अधिकारी वापस लौटे, कहा निष्पक्ष हुआ जांच जिला विकास अधिकारी शिकायतों की जांच करके रात सात बजे रिपोर्ट बनाकर अपने साथ ले गए। बोले जांच निष्पक्ष हुआ है रिपोर्ट जिलाधिकारी को दे दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...