1892 प्राथमिक पाठशाला पर पोलियो बूथ बनेंगे:6.3 लाख बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाने का लक्ष्य, DM ने टास्क फोर्स का किया गठन

जौनपुर5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रेस वार्ता कर जानकारी हेतु मुख्य विकास अधिकारी सीलम साईं तेजा। - Dainik Bhaskar
प्रेस वार्ता कर जानकारी हेतु मुख्य विकास अधिकारी सीलम साईं तेजा।

जौनपर में 18 से 23 सितंबर तक सघन पल्स पोलियो का महाअभियान चलाया जाएगा। पोलियो अभियान के मद्देनजर 1892 प्राथमिक पाठशाला पर पोलियो बूथ बनाए जाएंगे। जौनपुर में लगभग 6,37,101 बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। इस संबंध में डीएम ने अपनी अध्यक्षता में टास्क फोर्स का गठन कर बैठक की है।

100 प्रतिशत पूरा हो लक्ष्य

जौनपुर में लगभग 6.3 लाख बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए 1892 बूथ बनाए जा रहे हैं। यह सभी बहुत प्राथमिक पाठशाला पर बनाए जाएंगे। पोलियो ड्रॉप पिलाने के लिए 5 वर्ष तक के बच्चों को चिन्हित किया गया है। इस दौरान 5 दिनों तक पोलियो टीम घर पर जाकर बचे हुए बच्चों को पोलियो ड्रॉप पिलाएगी।

1968 टीम घर घर जाएंगी

घर-घर दवा पिलाने के लिए 1968 टीम लगाई गई है। इन टीमों को 7,43,204 घर पर जाकर बच्चों को पोलियो पिलाना है। DM मनीष कुमार वर्मा ने सभी विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि 5 वर्ष तक का कोई भी बच्चा पोलियो ड्राप पीने से वंचित ना होने पाए।

32 प्रतिशत परिवार का आयुष्मान कार्ड नहीं

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी साईं तेजा सीलम के द्वारा आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत 15 से 30 सितम्बर 2022 तक चलने वाले आयुष्मान पखवाड़ा के सम्बन्ध में प्रेस वार्ता की गयी। उन्होंने बताया कि जौनपुर में लगभग 32 प्रतिशत ऐसे परिवार शेष बचे हुये हैं जिनके परिवार में एक भी आयुष्मान कार्ड नहीं बना है।

30 सितंबर तक चलेगा अभियान

जनपद में कुल लाभार्थियों का केवल 34 प्रतिशत ही आयुष्मान कार्ड बना है। शासन के निर्देशनुसार 15 से 30 सितम्बर 2022 तक विशेष अभियान चलवाकर ऐसे परिवार जिनमें एक भी कार्ड नहीं बने हैं तथा ऐसे लाभार्थियों के भी कार्ड प्राथमिकता के आधार पर बनवायें जायेगें जिनके परिवार में एक कार्ड बन चुका है।

खबरें और भी हैं...