नहीं मिला ढोल तो टीन का डिब्बा बजाकर कराई मुनादी:जौनपुर में धारा 82 के तहत पुलिस ने की कार्रवाई, 1.5 करोड़ रुपए गबन का है मामला

जौनपुर4 महीने पहले

जौनपुर में शुक्रवार को पुलिस ने ढोल न मिलने पर 5 मिनट तक टीन का डिब्बा बजाकर मुनादी कराई है। पुलिस दीपक शुक्ला के घर आईपीसी की धारा 82 के तहत कार्रवाई की है।

आरोपी दीपक जेकेबी नाम की कंपनी बनाकर 8 लोगों से 1.5 करोड़ रुपए गबन किया था। मामले में 2019 में आजमगढ़ के सिविल लाइन थाने में केस दर्ज हुआ था।

दरअसल, 24 जुलाई 2019 को सिविल लाइन आजमगढ़ में पीड़ित शुभराती द्वारा 4 आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था। आरोप है कि 8 लोग मिलकर कंपनी चलाते थे। उनमें प्रदीप कुमार मैनेजर राजेश सिंह प्रियंका सिंह विक्रम त्रिपाठी दीपक शुक्ला आशीष श्रीवास्तव दुर्गेश जयसवाल पवन शर्मा नाम शामिल है।

इन लोगों ने जेकेबी ग्रुप ऑफ कंपनी और जेकेवी लैंड डेवलपमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड जाली और फर्जी कंपनी बनाई गई थी। वादी ने बताया कि उस वक्त इसके फर्जी और जारी होने की सूचना उसे नहीं थी। प्रलोभन देकर कंपनी ने एजेंट बनाया था तथा जमीन के एवज में पैसे का निवेश करने को बोला था।

यह फोटो आरोपी दीपक के घर की है। पुलिस ने घर के बाहर नोटिस चस्पा की है।
यह फोटो आरोपी दीपक के घर की है। पुलिस ने घर के बाहर नोटिस चस्पा की है।

नहीं किया भुगतान

पीड़ित ने बताया कि कंपनी द्वारा बताया गया था कि निश्चित समय के बाद उनके निवेश के अनुपात में भूखंड का आवंटन होगा। इसी झांसे में आकर वादी ने कंपनी में जुड़ कर पैसे निवेश किए थे।

एग्रीमेंट बॉन्ड कंपनी द्वारा दिया गया था लेकिन एग्रीमेंट के समय अवधि पूरी होने के बाद पैसे और जमीन के आवंटन के विषय में कंपनी मुकर गई। इसके बाद कंपनी में काम कर रहे लोग ताला बंद कर फरार हो गए।

जौनपुर में चिक फंड कंपनी के आरोपियों के घर नोटिस चस्पा करती आजमगढ़ पुलिस।
जौनपुर में चिक फंड कंपनी के आरोपियों के घर नोटिस चस्पा करती आजमगढ़ पुलिस।

दो आरोपी गिरफ्तार

पुलिस इस मामले में 8 लोगों को आरोपी बनाया था। आईपीसी की धारा 419,420 और 467 के तहत पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया था। मामले में 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। आरोपियों की तलाश में आजमगढ़ की पुलिस कई बार जौनपुर और प्रयागराज गई, पर आरोपियों का पता नहीं चल सका घर के लोगों ने आरोपियों की कोई फोटो भी पुलिस को नहीं उपलब्ध कराई। ऐसे में पुलिस ने 82 के तहत नोटिस चस्पा की है। इसके एक महीने बाद कुर्की की कार्रवाई की जाएगी

यह फोटो आरोपी दीपक शुक्ला के घर के बाहर खड़ी पुलिस टीम की है।
यह फोटो आरोपी दीपक शुक्ला के घर के बाहर खड़ी पुलिस टीम की है।

इस मामले में जौनपुर के हुसैनाबाद कॉलोनी निवासी दीपक शुक्ला पुत्र अरुण शुक्ला का भी नाम सामने आया था। पुलिस द्वारा कई बार घर के सदस्यों को सूचना दी गई कि जल्द से जल्द इस मामले में दीपक हाजिर हो जाए। आजमगढ़ जिले की टीम का नेतृत्व क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर द्विजेन्द्र प्रताप सिंह कर रहे थे

खबरें और भी हैं...