पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मुंबई के निर्भया कांड पर भाजपा-शिवसेना आमने-सामने:सामना ने लिखा ‘जौनपुर पैटर्न’ ने गंदगी मचाई; भाजपा MLA ने कहा- शिवसेना ओछी राजनीति कर रही

जौनपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

बीते 10 सितंबर को मुंबई के साकीनाका इलाके में एक महिला से रेप के बाद उसके प्राइवेट पार्ट को लोहे की रॉड से डैमेज कर दिया गया था। इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई थी। पुलिस ने 12 सितंबर को यूपी के जौनपुर के रहने वाले आरोपी अमित चौहान को गिरफ्तार किया था। शिवसेना के मुखपत्र सामना ने सोमवार को इसे ‘जौनपुर पैटर्न’ पर हुआ अपराध बताया। इस पर भाजपा और शिवसेना के बीच पॉलिटिक्स शुरू हो गई है।

सामना में छपे इस इस लेख के बाद उत्तर प्रदेश के जौनपुर की बदलापुर सीट से भाजपा विधायक रमेश मिश्रा ने शिवसेना पर ओछी राजनीति करने का आरोप लगाया है। इधर, आरोपी के पिता का कहना है कि उनका बेटे से कोई वास्ता नहीं है। उसे अपने किए की सजा मिलनी चाहिए।

मुंबई रेपकांड मामले को शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के सोमवार को छपे अंक में संपादकीय में ‘जौनपुर पैटर्न’ बताया गया है।
मुंबई रेपकांड मामले को शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ के सोमवार को छपे अंक में संपादकीय में ‘जौनपुर पैटर्न’ बताया गया है।

मुंबई रेप केस का आरोपी यूपी के जौनपुर का
मुंबई के साकीनाका इलाके में महिला के साथ ऑटो के अंदर रेप कर उस पर जानलेवा हमला करने के मामले में मोहन चौहान को गिरफ्तार किया गया था। मोहन उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले का रहने वाला है। इसके बाद शिवसेना ने लिखा था कि साकीनाका मामले की जांच गहराई में जाकर की जाए, तो पता चल जाएगा कि ‘जौनपुर पैटर्न’ ने मुंबई में कितनी गंदगी मचा रखी है।

भाजपा विधायक बोले- पूरे इलाके को बदनाम न करें
भाजपा विधायक रमेश मिश्रा ने कहा कि उनकी संवेदनाएं पीड़ित परिवार के साथ हैं। आरोपी को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए। लेकिन जिस तरह की बात शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखी गई है, वह उनकी ओछी राजनीति को दर्शा रही है। उन्होंने कहा कि आरोपी के जिले के आधार पर पूरे जनपद को बदनाम करना निंदनीय है। जौनपुर से ही सबसे ज्यादा IAS और IPS भी निकलते हैं।

मुंबई रेप केस का आरोपी मोहन चौहान यूपी के जौनपुर का रहनेवाला है।
मुंबई रेप केस का आरोपी मोहन चौहान यूपी के जौनपुर का रहनेवाला है।

अपनी नाकामी छिपा रही शिवसेना सरकार
शिवसेना पर हमला बोलते हुए बीजेपी विधायक रमेश मिश्रा ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार अपनी नाकामी छिपा रही है। उन्होंने कहा कि बड़ी पीड़ा होती है कि बाला साहब ठाकरे ने हिंदुत्व के झंडे को बुलंद किया, लेकिन उनके बेटे मुस्लिम वोटर्स को खुश करने के लिए ओछी राजनीति करने लगे हैं। उन्होंने कहा कि मुंबई के विकास में जौनपुर के कई लोगों का योगदान रहा है।

मिश्रा ने कहा कि जौनपुर के रहने वाले कई उद्योगपतियों ने नवी मुंबई के विकास में हाथ बढ़ाया है। जौनपुर के ही मूल निवासी कृपाशंकर सिंह महाराष्ट्र सरकार में गृह राज्यमंत्री भी रहे हैं। जो लोग इस तरह का वक्तव्य दे रहे हैं, वह शायद जौनपुर के बारे में नहीं जानते।

आरोपी के पिता बोले- मेरा कोई वास्ता नहीं
मुंबई रेप केस के आरोपी मोहन चौहान का पैतृक निवास बदलापुर थाना क्षेत्र के रारिकला गांव में है। घर की हालत बेहद खराब है। उसके पिता कतवारू जर्जर मकान में अकेले रहते हैं। उन्होंने कहा कि उनका मोहन से कोई वास्ता नहीं है। पत्नी ने 20 साल पहले ही घर छोड़ दिया था। नालायक बेटे ने गांव का ही नहीं पूरे जौनपुर का भी नाम डूबा दिया है। सरकार उसे जो चाहे सजा दे।

एक साल पहले मारने दौड़ा था बेटा
आरोपी के पिता कतवारू ने बताया कि उनके दो बेटे हैं। बड़ा बेटा मदन निहायती शरीफ है, तो छोटा बेटा मोहन निक्कमा है। पिछले साल मोहन घर आया था। घर आते ही वह गेहूं और भूसा बेचने लगा था। जब उन्होंने मना किया तो उसने उन्हें मारने की कोशिश की थी। गांव वालों ने उनकी जान बचाई थी।

गांव वालों ने कहा- अच्छे स्वभाव का नहीं था मोहन
मुंबई रेप कांड में नाम सामने आने के बाद गांव वालों ने ही पिता को इसकी जानकारी दी थी। मीडिया के लोग जब भी किसी से मोहन के घर का पता पूछते तो गांव वाले इनकार कर देते। किसी तरह से आरोपी के घर पहुंचने के बाद स्थिति स्पष्ट हुई। गांव वालों ने बताया कि मोहन का स्वभाव अच्छा नहीं था। वह शराब पीने का भी आदी है।

खबरें और भी हैं...