जौनपुर में ‘भारत बंद’ का समर्थन:संयुक्त किसान मोर्चा ने निकाला मार्च, पुलिस से हुई नोकझोंक; एक घंटे तक जाम रहा हाईवे

जौनपुर20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जौनपुर में ‘भारत बंद’ का समर्थ - Dainik Bhaskar
जौनपुर में ‘भारत बंद’ का समर्थ

भारत बंद के समर्थन में जौनपुर में संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर कई संगठनों ने शहर में जुलूस निकाला। इस दौरान लगभग एक घंटे तक राष्ट्रीय राजमार्ग प्रभावित रहा। पुलिस-प्रशासन ने जुलूस को नगर के पॉलिटेक्निक चौराहे पर रोक दिया। इस दौरान जुलूस में शामिल संगठन और पुलिस-प्रशासन के बीच तीखी नोकझोंक हुई। रास्ते में लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। इसके बाद मौके पर जॉइंट मजिस्ट्रेट हिमांशु नागपाल ने पहुंचकर संयुक्त संगठनों की मांग को सुना।

कृषि कानून के विरोध में निकाला मार्च

संयुक्त किसान मोर्चा ने कृषि कानून, बिजली संशोधन बिल-2020 के खिलाफ और फसलों की लागत से डेढ़ गुना एमएसपी पर खरीद की कानूनी गारंटी की मांग की। संयुक्त किसान मोर्चा ने जौनपुर के कृषि भवन में जनसभा भी की। जनसभा में संबोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि सरकार द्वारा लाए गए कृषि के तीन कानून और बिजली संशोधन बिल-2020 किसान और जनविरोधी हैं। उन्होंने कहा कि खेती और किसान दोनों प्राइवेट कंपनी के चंगुल में फंस गए हैं। वहीं दूसरी तरफ निजीकरण, व्यापारीकरण और संप्रदायिकता को बढ़ावा भी दिया जा रहा है। सरकारी क्षेत्रों का तेजी से निजीकरण किया जा रहा है।

एक घंटे तक जाम रहा राष्ट्रीय राजमार्ग

इसके बाद संयुक्त किसान मोर्चा जुलूस प्रदर्शन में मांग पट्टिकाएं लेकर कृषि भवन से कचहरी के लिए निकल गया। इस दौरान पॉलिटेक्निक चौराहे पर पुलिस-प्रशासन और किसान संयुक्त मोर्चा के बीच जमकर नोकझोंक हुई। स्थिति को देखते हुए किसी तरह मौके पर ज्वाइंट मजिस्ट्रेट हिमांशु नागपाल पहुंचे। लगभग एक घंटे तक राष्ट्रीय राजमार्ग प्रभावित रहा। ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने मौके पर पहुंचकर किसानों को कचहरी परिसर जाने से मना किया। उनके अनुरोध पर किसान संयुक्त मोर्चा ने अपनी बात ज्वाइंट मजिस्ट्रेट को बता कर वहीं पर जुलूस को समाप्त किया।

बीएसएनएल एम्प्लाइज यूनियन ने किया समर्थन

नौ महीने से किसान संघर्ष का नेतृत्व कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा की मांग को लेकर भोजन अवकाश के समय भारत संचार निगम लिमिटेड एंप्लाइज यूनियन द्वारा भी उन्हें समर्थन किया गया। इस दौरान उन्होंने किसान संयुक्त मोर्चा की मांग को समर्थन देते हुए धरना प्रदर्शन किया। भारत संचार निगम लिमिटेड एंप्लाइज यूनियन संगठन के तत्वाधान में धरना प्रदर्शन किया गया।

खबरें और भी हैं...