जौनपुर में युवक की हत्या:गले पर चोट के निशान, घर से 500 मीटर दूर पड़ा मिला शव, हिरासत में एक संदिग्ध

जौनपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है।

जौनपुर में युवक की गला दबाकर हत्या कर दी। बुधवार सुबह उसका शव घर से 500 मीटर दूर पड़ा मिला। आसपास के लोगों ने शव देखकर मामले की सूचना परिजनों और पुलिस को दी। पुलिस ने जांच पड़ताल की। मृतक के गले पर चोट के निशान है। आशंका है कि उसकी गला दबाकर हत्या की गई है। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, एक संदिग्ध को हिरासत में लिया है।

जफराबाद थाना क्षेत्र के सम्मोपुर कला गांव निवासी दीपक यादव (23) की घर से लगभग 500 मीटर दूर गांव में गोमती नदी के किनारे बुधवार को सुबह एक पेड़ के किनारे शव मिला। दीपक के गले पर काला निशान बना हुआ है। गला दबाकर हत्या की आशंका जताई जा रही है।

दोस्त के साथ निकला फिर नहीं लौटा

परिजनों ने बताया कि बीती रात करीब साढ़े नौ बजे दीपक का एक मित्र इंद्रजीत ने फोन पर कुछ बात किया था। फोन के बाद दीपक इंद्रजीत के साथ घर से निकल पड़ा था। उसके बाद दीपक रात भर घर वापस नहीं लौटा। सुबह उसकी लाश नदी के किनारे खेत में देखी गई।

डॉग स्क्वॉयड टीम ने की जांच पड़ताल

जानकारी होते घटनास्थल पर भीड़ इकट्ठा हो गई। जफराबाद पुलिस तथा क्षेत्राधिकारी जितेंद्र दूबे ने अतिरिक्त फोर्स मौके पर बुला लिया। घटना का खुलासा के लिए डाग स्क्वायड की टीम बुलाई गई। डॉग स्क्वायड घटना स्थल से तीन सौ मीटर जाकर सूंघ के रुक गया। सूचना पर लाइन बाजार थाना प्रभारी अखिलेश मिश्र भी मौके पर पहुंचे। सीओ सिटी जितेंद्र दूबे ने बताया कि 24 घंटे के भीतर हत्यारा गिरफ्त में होगा। तहरीर तथा मुकदमे की प्रक्रिया चल रही है।

दीपक पर थी घर की सारी जिम्मेदारियां

दो भाई एक बहन में दीपक बड़ा था। पिता मुन्नालाल मुंबई में ऑटो रिक्शा चालक है। घर की समस्त जिम्मेदारी दीपक पर थी। दीपक इमलो पांडेय पट्टी बाजार में बाइक मैकेनिक का कार्य करता था। मां सुनीता देवी बहन ब्यूटी छोटा भाई अनुराग रोते-रोते बेहोश हो जा रहे हैं। गांव वालों ने बताया कि दीपक बहुत ही मृदुल व सरल स्वभाव का मिलनसार लड़का था।

सभी लोगों से बहुत अच्छे से मिलता था। उसके प्रति गांव वालों में अच्छी सहानुभूति देखने को मिल रही है। गांव वालों ने पुलिस का घेराव कर मांग किया है। जल्द ही मामले का खुलासा किया जाए।

खबरें और भी हैं...