जौनपुर में दो चरवाहों को तेज रफ्तार ट्रक ने रौंदा:भेड़ों को लेकर पुल पार कर रहे थे, 75 भेड़ें भी मरी

जौनपुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।  - Dainik Bhaskar
डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। 

जौनपुर के चंदवक थाना क्षेत्र के आजमगढ़-वाराणसी रोड स्थित गोमती नदी पुल से करीब 150 भेड़ों के झुंड के साथ जा रहे दो चरवाहों को तेज रफ्तार ट्रक ने कुछ दिया। यही नहीं इस हादसे में 75 भेड़ें भी मारी गई है। बेकाबू ट्रक ड्राइवर चरवाहे और भेड़ों को रौंदते हुए भाग निकला।

भेड़ मालिकों की हुई मौत

इस घटना में दो भेड़ स्वामी राजगीरी पाल (50) निवासी थाना कोचस, बिहार और उसके फुफेरे भाई जगदंबा पाल (35) निवासी थाना मोहनिया, बिहार की मौके पर मौत हो गई। ट्रक की चपेट में आने के कारण लगभग 75 भेड़ों की मौत हो गई। वहीं 50 की संख्या में भेड़ घायल हैं। दरअसल, दोनों ही भेड़ों के मालिक भी थे और चरवाहों का काम भी करते थे।

दोनों मृतक तीन महीने से लगातार अपने परिवार का भरण पोषण करने के लिए बिहार से आकर यूपी में परिवार से दूर पैसा कमाने के चक्कर में आए थे।
दोनों मृतक तीन महीने से लगातार अपने परिवार का भरण पोषण करने के लिए बिहार से आकर यूपी में परिवार से दूर पैसा कमाने के चक्कर में आए थे।

दूसरा झुंड बच गया

इनके साथ चल रहा भेड़ों का दूसरा झुंड बच गया। हरगोविंद पाल लगभग 200 भेड़ के साथ बगल के रास्ते पुराने पुल से होकर जा रहे थे। करीब तीन महीने से लगातार अपने परिवार के भरण पोषण करने के लिए बिहार से आकर यूपी में परिवार से दूर पैसा कमाने के चक्कर में आए थे। जौनपुर से थाना गद्दी, रतनूपुर होते हुए चंदवक के लिए जा रहे थे। इनकी योजना थी कि चंदवक पुल पार करने के बाद चंदवक के आस पास कहीं रुका जाएगा फिर सैदपुर, गाजीपुर होते हुए बिहार घर के लिए आगे बढ़ेंगे। आजमगढ़ की तरफ से आ रही ट्रक ने इन्हें रौंद दिया। दुर्घटना की सूचना मिलते ही चंदवक थाना प्रभारी ने सभी को प्राथमिक चिकित्सालय भेजवाया। यहां पर डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।