तहसील दिवस का बहिष्कार करेंगे लेखपाल:एसडीएम को सौंपा ज्ञापन, मारपीट करने वाले वकीलों की गिरफ्तारी और बार काउंसिल की सदस्यता रद्द करने मांग

शाहगंज16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शाहगंज में लेखपालों ने सोमवार को होने वाले तहसील दिवस का बहिष्कार करने और क्षेत्र में कार्य करने का फैसला किया है। लेखपालों ने मारपीट करने वाले वकीलों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर एसडीएम को संबोधित ज्ञापन दिया। साथ ही आरोपी अधिवक्ता की बार काउंसिल की सदस्यता रद्द करने की मांग की। ऐसा नहीं होने पर लेखपालों ने बड़े आंदोलन की चेतावनी दी है।

बीते शुक्रवार को वकीलों और लेखपालों में मारपीट हो गई थी। आरोप है कि वकील अजय सिंह और राणा अजीत सिंह ने लेखपाल बृज किशोर यादव और राकेश यादव को पीटकर घायल कर दिया। पुलिस ने दोनों वकीलों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया था। बाद में वकीलों ने भी जवाबी तहरीर देकर उक्त लेखपालों पर घूस मांगने और मारपीट का आरोप लगाया था। उप्र लेखपाल संघ की शाहगंज इकाई के अध्यक्ष विकास सिंह ने कहा कि मुकदमा दर्ज होने के बावजूद आरोपी वकील खुलेआम तहसील परिसर में घूम रहे हैं। जिससे पीड़ित समेत सभी लेखपालों में भय व्याप्त है।

लेखपाल सोमवार को तहसील दिवस से अनुपस्थित रहेंगे
उन्होंने कहा कि लेखपाल संघ की कार्यकारिणी की बैठक में तय हुआ कि लेखपाल सोमवार को तहसील दिवस से अनुपस्थित रहेंगे और फील्ड में काम करेंगे। साथ ही आरोपी वकीलों की बार काउंसिल की सदस्यता खत्म करने की मांग रखी गई।

आरोपी वकीलों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो करेंगे आंदोलन
​​​​​​​
उन्होंने कहा कि अगर इसके बाद भी आरोपी वकीलों की गिरफ्तारी नहीं होती है तो बैठक कर आगे का निर्णय लेंगे और आंदोलन किया जाएगा। बता दें कि तहसील दिवस हर महीने के पहले और तीसरे शनिवार को आयोजित होता है। बीते शनिवार को सरकारी छुट्टी होने की वजह से अब इसका आयोजन सोमवार को होगा।

खबरें और भी हैं...