पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ललितपुर में नामांकन के दौरान गुंडागर्दी:भाजपाइयों पर आरोप, प्रत्याशियों के नामांकन पत्र छीने, कलक्ट्रेट परिसर में की मारपीट

ललितपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कलक्ट्रेट परिसर में हुई मारपीट। - Dainik Bhaskar
कलक्ट्रेट परिसर में हुई मारपीट।

उत्तर प्रदेश के ललितपुर में जिला पंचायत के लिए हो रहे उपचुनाव में सपा सहित तीन निर्दलीय प्रत्याशियों के नामांकन पत्र मारपीट कर छीन लिए जाने का आरोप भाजपा नेताओं पर लगा है। कलेक्ट्रेट परिसर के अंदर नामांकन कक्ष के बाहर एक महिला प्रत्याशी से व उसके प्रस्तावकों के साथ मारपीट की गई व नामांकन पत्र छीन लिए गए। पुलिसकर्मी मूक दर्शक बने रहे। वहीं, डीएम का सीयूजी नंबर बंद रहा तो एसपी का नंबर नहीं लगा।

जिला पंचायत वार्ड नंबर 14 मड़ावरा क्षेत्र से विजयी राजकुमारी सिंह लोधी का कोरोना संक्रमण के चलते 21 मई को निधन हो गया था, जिसके चलते इस सीट पर उपचुनाव के लिए 6 जून को नामांकन प्रक्रिया कलेक्ट्रेट परिसर में सुबह 9 बजे से शुरू हुई।

नामांकन पत्र छीनने का आरोप
दोपहर में निर्दलीय प्रत्याशी रेखा पटेल अपने देवर व समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट परिसर में दाखिल हुईं। नामांकन कक्ष से बीस कदम की दूरी पर डेढ़ दर्जन से अधिक लोग आए और पूजा पटेल व उनके देवर प्रस्तावक सनत पटेल को रोक लिया व नामांकन पत्र छीनने लगे, विरोध करने पर मारपीट की। पूजा पटेल को एक कमरे में बंद कर दिया । भारत समाज आजाद पार्टी की उमा देवी के भी अभिलेख छीन लिए गए। भारत समाज आजाद पार्टी के मंडल अध्यक्ष मोती लाल ने भाजपाइयों पर अभिलेख छीनकर ले जाने का आरोप लगाया हैं।

सपा ने भी लगाया आरोप
समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी बृज रानी व उनके पति लोटन राम ने आरोप लगाया कि कलेक्ट्रेट परिसर के बाहर पहुंचे ही थे कि कुछ लोग आए और उनका नामांकन पत्र व बैग छीनकर ले गए। बैग में दस हजार रुपए भी थे। इसके अलावा हरपाल सिंह ने आरोप लगाया कि वह अपनी पत्नी का नामांकन कराने आए थे। वहां भाजपा नेताओं ने उसके साथ मारपीट कर नामांकन पत्र छीन ले गए।

बसपा ने कहा, खुलेआम गुंडागर्दी हुई
इधर, बहुजन समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष दीपक अहिरवार ने कहा कि खुलेआम गुंडागर्दी भाजपाइयों द्वारा की गई उनके प्रत्याशी को अगवा कर लिया गया और डीएम का फोन लग नहीं रहा है। वह डीएम आवास पहुंचे तो डीएम नहीं मिले।

खबरें और भी हैं...