झांसी... रिटायर्ड रेलवे कर्मी के घर में कुर्की की कार्रवाई:15 साल पुराने केस में कोर्ट में पेश नहीं हो रहा था, लोहा चोरी का था मामला

झांसीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी दीपक के कमरे की तलाशी लेकर कुर्की की कार्रवाई करती टीम। - Dainik Bhaskar
आरोपी दीपक के कमरे की तलाशी लेकर कुर्की की कार्रवाई करती टीम।

झांसी में कोर्ट के आदेश पर रिटायर्ड रेलवे कर्मी दीपक कुमार भटनागर के घर में कुर्की की कार्रवाई की गई। 15 साल पुराने रेलवे का लोहा चोरी करने के मामले में आरोपी बांदा रेलवे कोर्ट में पेश नहीं हो रहा था। तब बांदा रेलवे न्यायालय के एसीजेएम ने आरोपी के खिलाफ कुर्की की कार्रवाई करने के आदेश जारी किए थे।
दो घंटे चली कुर्की की कार्रवाई
कोर्ट के आदेश पर झांसी मंडल सुरक्षा आयुक्त ने जूही आरपीएफ थाना प्रभारी शिप्रा के नेतृत्व में 24 सदस्यीय टीम का गठन किया। मंगलवार को टीम वीडियोग्राफर, कोतवाली थाना पुलिस और लेखपाल को लेकर बांग्लाघाट स्थित आरोपी दीपक के घर पहुंची। जहां आरोपी के भाई राकेश व सुनील मिले। दोनों ने दीपक भटनागर द्वारा पूर्व में उपयोग किए जा रहे एक कमरे को दिखाया और लिखित में दिया कि यह दीपक के हिस्से का कमरा है।

तब टीम ने कमरे का ताला तोड़ा और कमरे का पूरा सामान जब्त कर लिया। कार्रवाई दोपहर ढाई बजे से शाम 4:30 बजे तक चली। कुर्की में जब्त किया गया सामान झांसी के आरपीएफ थाना के मालखाने में जमा करवाया गया है।
केस के समय झांसी में अकाउंटेंट था आरोपी
आरोपी दीपक 2005 में झांसी रेलवे में अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत था। उस पर भतीजे के साथ मिलकर रेलवे का लोहा चोरी करने का आरोप है। 2005 में दोनों के खिलाफ जूही आरपीएफ थाना में धारा 3RP (UP) Act के तहत केस दर्ज हुआ था। इसके बाद आरोपी दीपक का आगरा तबादला हो गया था। आरोपी आगरा से ही रिटायर्ड हो गया। कोर्ट में लंबे समय से पेशी पर नहीं जा रहा था।