झांसी में होटल व्यवसायी की संदिग्ध अवस्था में मौत:रेलवे ट्रैक पर शव मिला, भाई से बंटवारे का विवाद चल रहा था

झांसी9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
होटल व्यवसायी प्रदीप साहू की मौत हो गई। प्रदीप की फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
होटल व्यवसायी प्रदीप साहू की मौत हो गई। प्रदीप की फाइल फोटो।

झांसी में शुक्रवार को होटल व्यवसायी की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। शव पाल कॉलोनी के पास रेलवे ट्रैक पर मिला है। व्यवसायी का अपने भाई के साथ बंटवारे को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा था। बेटे ने हत्या कर शव रेलवे ट्रेक पर फेंकने का आरोप लगाया है। पुलिस ने होटल व्यवसायी के ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या करने की बात कही है। शव को मेडिकल कॉलेज के मुर्दाघर में रखवाया गया है। शनिवार को पोस्टमार्टम से मौत की वजह स्पष्ट होगी।

नाश्ता करके घर से बाइक लेकर निकले थे

मसीहागंज के चित्रकूट कॉलोनी निवासी प्रदीप साहू (57) पुत्र रामभरोसे साहू होटल व्यवसायी थे। बेटे अभिषेक साहू ने बताया कि शुक्रवार सुबह करीब 10 बजे पिता प्रदीप घर से नाश्ता करके बाइक से बाजार की तरफ निकले थे। दोपहर करीब 2 बजे तक लौटकर नहीं आए तो मां इंद्रा ने खाना के लिए फोन लगाया। तब कॉल पुलिस ने उठाया और बताया कि प्रदीप का शव पॉल कॉलोनी के पास रेलवे ट्रेक पर पड़ा है। तब परिजन मौके पर पहुंचे।

6 भाई थे, दो के बीच चल रहा था विवाद

बेटे ने बताया कि पिता प्रदीप से बड़े 3 भाई और छोटे दो भाई हैं। 6 भाइयों के शहर में 3 नामी होटल है। आपसी सहमति से दो-दो भाइयों को एक-एक होटल मिला था। प्रदीप का अपने पार्टनर भाई के साथ लंबे समय से बंटवारे को लेकर विवाद चल रहा था। विवाद का यह मामला पुलिस थाने तक भी गया था। 10 जनवरी को ही पिता ने एसएसपी काे शिकायत दी थी।

9 फरवरी को होनी है बेटे की शादी

प्रदीप ने अपने बड़े बेटे अभिषेक की शादी तय कर दी थी। 9 फरवरी को शादी होनी थी, इसको लेकर पिता तैयारियों में जुटे थे। सुबह वह शादी के काम से ही घर से निकले थे। पिता की मौत के बाद शादी वाले घर में कोहराम मच गया। उनकी बाइक रेलवे ट्रेक के पास मिली है। सीपरी बाजार थाना प्रभारी निरीक्षक चंद्रशेखर दुबे ने बताया कि प्रदीप को अपने भाई से विवाद चल रहा था। शुक्रवार को प्रदीप ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली है। बेटे की तहरीर पर जांच कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...