शादी नहीं होने से परेशान युवक ने आत्महत्या की:पहले मां का गला दबाया, पिता को बुलाने गई तो फंदे पर लटका, 6 दिन से झांसी में भर्ती था

झांसी3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नीरज की मौत होने पर पोस्टमार्टम कराने पहुंचे पिता व परिजन। - Dainik Bhaskar
नीरज की मौत होने पर पोस्टमार्टम कराने पहुंचे पिता व परिजन।

हमीरपुर में फांसी लगाने के बाद गंभीर रूप से घायल हुए युवक ने शनिवार को झांसी मेडिकल कॉलेज में दम तोड़ दिया। शादी नहीं होने के कारण वह परेशान रहता था। करीब 6 दिन पहले वह नशा करके घर आया और मां का गला दबाने लगा।

तब मां पिता को बुलाने चली गई। तब तक युवक आंगन में फंदे पर लटक गया। मां लौटकर आई तो लोगों की मदद से बेटे को नीचे उतारा। तभी से युवक झांसी में भर्ती था। शनिवार दोपहर काे पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।

शादी की जिद कर रहा था बेटा

हमीरपुर के निकासी थाना क्षेत्र के इछौरा निवासी बृजपाल कुमार राजपूत ने बताया कि बेटा नीरज कुमार राजपूत (23) मजदूरी करता था। पिछले कुछ समय से वह शादी करवाने के लिए जिद कर रहा है। उसको कह दिया था कि रिश्ता आएगा और लड़की अच्छी होगी तो शादी कर देंगे। शादी के लिए वह काफी परेशान रहता था। कई बार समझाया, लेकिन उस पर शादी का भूत सवार था।

शराब पीकर आया और मां से बोला फांसी लगाऊंगा

पिता ने बताया कि 8 मई की दोपहर करीब 3 बजे बेटा नीरज शराब पीकर घर पर आया। तब मां सेतोषी अकेली थी। नीरज मां से बोला कि आज फांसी लगाकर जान देनी है। विवाद होने पर वह मां का गला दबाने लगा। तब संतोषी घर से बाहर भागी और गांव में पिता बृजलाल को बुलाने चली गई।

बृजलाल नहीं मिले तो संतोषी लौटकर घर पहुंची। तब आंगन में बेटा फंदे पर लटका हुआ था। शोर करने पर आसपास के लोग एकत्र हो गए और फंदे से नीरज को नीचे उतारा। तब उसकी सांस चल रही थी। हमीरपुर से झांसी रेफर कर दिया गया था। शनिवार को नीरज ने दम तोड़ दिया। नीरज से बड़े भाई की शादी हो चुकी है।