पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Hindu Girl Was Married By Converting Her Religion, After The Death Of The Girl, The Body Was Buried In Jhansi, The Police Registered An FIR Against 5 People Including Husband, Husband Arrested

मध्य प्रदेश की नीलम ने धर्म बदलकर किया था निकाह:मौत के दस दिन बाद झांसी में कब्र से निकाला गया था शव, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद पुलिस ने पति को किया गिरफ्तार

झांसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
झांसी में 17 जुलाई को अफरोज उर्फ नीलम का शव कब्र से निकाला गया था। - Dainik Bhaskar
झांसी में 17 जुलाई को अफरोज उर्फ नीलम का शव कब्र से निकाला गया था।

मध्य प्रदेश के छतरपुर पुलिस ने नीलम की मौत के मामले में उसके पति तालिब उर्फ तब्बू को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने हत्या और सबूत मिटाने के आरोप में उसके पति समेत 5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। चार लोग अभी भी फरार चल रहे हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। नीलम की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में उसके कंधे पर चोट के निशान मिले थे। पुलिस ने उक्त कार्रवाई पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद की है।

17 जुलाई को अफरोज उर्फ नीलम का कब्र से निकाला गया था शव
उत्तर प्रदेश के झांसी में 17 जुलाई को अफरोज उर्फ नीलम का शव कब्र से निकाला गया था। उसकी 10 दिन पहले संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। मध्य प्रदेश के छतरपुर की रहने वाली नीलम ने धर्म बदलकर शादी की थी। परिवार वालों ने हत्या की आशंका जताई थी। मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए शव कब्र से बाहर निकलवाकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया था। इस दौरान सीओ सदर एके चौरसिया, एसडीएम अतुल कुमार फोर्स के साथ थे। पूरे मामले की वीडियोग्राफी भी कराई गई थी।

छह साल पहले की थी शादी
छतरपुर के सिविल लाइन थाना इलाके की रहने वाली नीलम अहिरवार ने तब्बू उर्फ तालिब से छह साल पहले शादी की थी। जिसके बाद नीलम का नाम अफरोज बेगम रख दिया गया था। कुछ समय बाद दोनों के रिश्तों में खटास आ गई। गृह कलह से तंग आकर अफरोज ने छह जुलाई को जहर खा लिया था। हालत बिगड़ने पर परिजनों ने उसे छतरपुर के मिशन हॉस्पिटल में भर्ती कराया था। बाद में उसे झांसी के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, लेकिन उसकी तबीयत में सुधार नहीं हुआ। वहां से बाद में उसे ग्वालियर के लिए रेफर कर दिया गया।

झांसी में दफनाया गया था शव
परिजन उसे ग्वालियर लेकर जा रहे थे, तभी रास्ते में उसकी मौत हो गई। अफरोज के साथ आए ससुराल पक्ष के लोगों ने पुलिस को सूचना दिए बगैर प्रेम नगर के ईदगाह कब्रिस्तान उसे दफना दिया था। जब इसकी जानकारी अफरोज के घरवालों को हुई तो उन्होंने नीलम उर्फ अफरोज की मौत को हत्या बताते हुए पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए झांसी जिला प्रशासन से संपर्क कर शव का पोस्टमॉर्टम कराने की बात कही। प्रशासन की अनुमति पर आज अफरोज के प्रेमनगर कब्रिस्तान में दफन शव को कड़ी सुरक्षा के बीच निकाला गया था।

तालिब के परिवार में अंतर धार्मिक विवाह की पारिवारिक परंपरा
छतरपुर के नया पन्ना नाका निवासी तब्बू उर्फ तालिब खान ने हिंदू युवती से शादी की थी। तालिब के परिवार के लिए ये कोई नई बात नहीं है। बल्कि, उसके परिवार में अंतर धार्मिक विवाह की पारिवारिक परंपरा रही है। छतरपुर के सिविल लाइंस थाने के इंस्पेक्टर राजेश सिंह बंजारा ने बताया कि तब्बू उर्फ तालिब खान के दादा हिंदू हैं, लेकिन उन्होंने मुस्लिम युवती से शादी की थी। दोनों का एक बेटा है। उसका नाम कमल है। जिसने मुस्लिम युवती से शादी कर अपना नाम कमाल खान रख लिया। कमाल खान की संतान तब्बू उर्फ तालिब खान है। जिसने हिंदू युवती से शादी रचाई और बाद में वो मुस्लिम बन गई।

नीलम को बीफ खाने और उर्दू पढ़ने के लिए किया जाता था मजबूर
मृतक नीलम के पिता किशोरी लाल अहिरवार ने आरोप लगाया था कि तालिब उर्फ तब्बू ने हिंदू बनकर मेरी बेटी से शादी की थी। उसके बाद धर्मांतरण के लिए प्रताड़ित करने लगा। बेटी ने बात नहीं मानी तो उसने हत्या कर दी। आरोपी तालिब पहले अपना नाम तब्बू बताता था, लेकिन शादी के बाद उसका असली चहरा सामने आया। तब तक बहुत देर हो चुकी थी। युवती के पिता का कहना है कि बेटी की शादी को लगभग 6 साल हो गए। उन्होंने कहा कि 2015 में उनकी बेटी लव जिहाद का शिकार हुई थी। शादी के बाद बेटी को 2 बच्चे भी हैं, इतने साल बीत जाने के बाद भी लगातार ससुराल पक्ष के लोग उसे धर्म बदलने, बीफ खाने और उर्दू पढ़ने के लिए मजबूर करते रहे और आखिरकार जब नहीं मानी तो उसकी हत्या कर दी।

पति समेत 5 लोग पर हत्या का मुकदमा दर्ज
छतरपुर पुलिस के डीएसपी शशांक जैन ने बताया कि लड़की के पिता ने पुलिस को सूचना दी थी कि उसकी बेटी की हत्या कर दी गई है। शव को झांसी के प्रेमनगर कब्रिस्तान से निकाला गया था। उसके बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में लड़की के कंधे और शरीर पर गंभीर चोटों के निशान मिले थे। जिसके आधार पर 5 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। तालिब को गिरफ्तार कर लिया गया है। बाकी की तलाश की जा रही है। लड़की का उनके परिजनों ने हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार कर दिया।

खबरें और भी हैं...