• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Hydra Tramples Old Woman On Foot In Jhansi, Death, Angry Villagers Jammed The Gwalior Highway, Opened On The Assurance Of Building A Breaker And Intersection

झांसी...हाइड्रा ने पैदल वृद्ध महिला को रौंदा, मौत:आक्रोशित ग्रामीणों ने ग्वालियर हाइवे पर जाम लगाया, ब्रेकर व चौराहा बनाने के आश्वासन पर खोला

झांसी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बूढ़ा गांव हादसे में वृद्ध महिला की मौत के बाद शव को सड़क पर रखकर विलाप करते परिजन। - Dainik Bhaskar
बूढ़ा गांव हादसे में वृद्ध महिला की मौत के बाद शव को सड़क पर रखकर विलाप करते परिजन।

झांसी में शनिवार सुबह करीब 9 बजे तेज रफ्तार हाइड्रा वाहन ने एक बुजुर्ग महिला को रौंद दिया। पहिए ऊपर से निकलने के कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसा सीपरी बाजार थाना एरिया के बूढ़ा गांव में हुआ। मौत से आक्रोशित ग्रामीणों ने ग्वालियर हाइवे पर जाम लगा दिया। पुलिस की लाख कोशिशों के बावजूद ग्रामीण सड़क से हटने को तैयार नहीं थे।

उनकी मांग थी कि गांव में हादसे रोकने के लिए ब्रेकर और एक चौराहे का निर्माण कराया जाए। ग्रामीणों का गुस्सा देख सदर विधायक रवि शर्मा और एसडीएम मौके पर पहुंच गए। विधायक के ब्रेकर व चौराहा बनाने के आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने करीब पौन घंटे बाद जाम खोला।
राशन लेने जा रही थी महिला
बूढ़ा गांव निवासी कलावती (70) पत्नी शिवदयाल पाल शनिवार सुबह घर से राशन लेने के लिए राशन की दुकान पर पैदल जा रही थी। गांव में ग्वालियर की तरफ से तेज गति में आ रहे हाइड्रा वाहन ने कलावती को कुचल दिया। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद ड्राइवर मौके से भागने की कोशिश कर रहा था। तब लोगों ने भागकर उसे पकड़ लिया। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और हाइड्रा ड्राइवर को हिरासत में ले लिया।
वाहन अड़ाकर लगाया जाम
महिला की मौत के बाद ग्रामीणों का आक्रोश भड़क उठा। सैकड़ों की संख्या में एकत्र हुए ग्रामीणों ने राजमार्ग पर जाम लगा दिया। जाम लगाने के लिए ग्रामीणों ने सफाई कार्य में प्रयुक्त वाहनों को सड़क पर खड़ा कर दिया। जाम लगने से राजमार्ग का यातायात पूरी तरह से बाधित हो गया। दोनों तरफ वाहनों की लंबी-लंबी कतारें लग गई।

ग्वालियर-झांसी राजमार्ग जाम होने की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने ग्रामीणों को समझाने की बहुत कोशिश की, लेकिन ग्रामीण नहीं माने। ग्रामीणों का कहना था कि इस मार्ग पर गांव के निकट आए दिन हादसे होते हैं। गांव के कई लोगों की हादसों में मौत हो की है, इसलिए जब तक चारों तरफ स्पीड ब्रेकर तथा चौराहे नहीं बन जाएंगे, वे जाम नहीं खोलेंगे। विधायक के आश्वासन पर ग्रामीण माने।