• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Jhansi :Five People, Including Inspector Of GRP Police, Received Utkrisht Seva Medal And Ati Utkrisht Seva Medal, Have Been Awarded For Good Service.

अच्छे कामों का मिला ईनाम:झांसी में GRP इंस्पेक्टर समेत 5 लोगों को उत्कृष्ट सेवा पदक और अति उत्कृष्ट सेवा पदक मिले, बोले- ये किसी ओलिंपिक मेडल से कम नहीं

झांसी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झांसी में सेवा, समर्पण और ईमानदारी के साथ ड्यूटी करने वाले जीआरपी पुलिस के इंस्पेक्टर समेत पांच पुलिसकर्मियों को उत्कृष्ट सेवा पदक और अति उत्कृष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया है। जीआरपी अधिकारियों का कहना है कि जीआरपी पुलिस का लक्ष्य ट्रेनों में सवार लोगों को सुरक्षा और सेवा है, जिसे इंस्पेक्टर सहित सभी ने बखूबी पूरा किया है।

जीआरपी इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने जानकारी दी कि झांसी मंडल के जीआरपी में तैनात पांच लोगों को उत्कृष्ट सेवा पदक और एक को अति उत्कृष्ट सेवा पदक के लिए शामिल किया था। जिसकी घोषणा 2019 में की गई थी। जीआरपी इंस्पेक्टर ने बताया कि प्रदेश के एडीजी द्वारा भेजे गए पदक प्राप्त हो गए हैं। ये हमारे लिए किसी ओलिंपिक पदक से कम नहीं है। उन्होंने कहा कि एक पुलिसकर्मी को उसकी सेवा के लिए पदक मिलना बहुत ही गौरव की बात होती है।

जीआरपी इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने कहा- ये पदक हमारे लिए किसी ओलिंपिक पदक से कम नहीं है।
जीआरपी इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने कहा- ये पदक हमारे लिए किसी ओलिंपिक पदक से कम नहीं है।

इन्हें मिला उत्कृष्ट सेवा पदक

झांसी जीआरपी इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह, उपनिरीक्षक विजय नारायण, उरई जीआरपी थाना प्रभारी बृजमोहन सैनी, उरई जीआरपी में तैनात मुख्य आरक्षी रविकांत मिश्रा और ललितपुर में तैनात मुख्य आरक्षी श्याम सुंदर को मिला उत्कृष्ट सेवा पदक मिला है।

अति उत्कृष्ट सेवा पदक

जीआरपी लाइन प्रभारी सुरेंद्र कुमार सिंह को अति उत्कृष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया।

जांच में उत्कृष्टता के लिए केंद्रीय गृहमंत्री का पदक

आपराधिक मामलों की जांच में बेहतर काम करने वाले पुलिस कर्मियों को प्रोत्साहित करने के लिए यह पदक आयोजित की गई है। यह पदक उन पुलिस एवं अर्धसैनिक बल कर्मियों को दिया जाता है जो अपने काम में असाधारण साहस का परिचय देते हैं। बताते हैं कि 2018 में केंद्रीय गृहमंत्री रहे राजनाथ सिंह ने पांच ‘पुलिस पदक’ शुरू किए थे। पुलिस सेवा में पेशेवर रुख और उत्कृष्टा को बढ़ावा देने एवं ऐसे सुरक्षा बलों, जो तनावपूर्ण स्थितियों तथा दुर्गम क्षेत्रों में अच्छा कार्य करते हैं, उनको सम्मानित करने के लिए पांच पुलिस पदक शुरू किए गए थे। इनमें नाम केंद्रीय गृह मंत्री विशेष संचालन पदक, पुलिस आंतरिक सुरक्षा सेवा पदक, असाधारण कुशलता पदक, उत्कृष्ट एवं अति उत्कृष्ट सेवा पदक और जांच में उत्कृष्टता के लिए केंद्रीय गृह मंत्री का पदक हैं। ये पदक हर साल दिए जाते हैं।

पदक के लिए जरूरी यह है शर्त

यह पुरस्कार 15 वर्ष और 25 वर्ष की सेवा पूरी करने वाले पुलिस कर्मियों को ही दिया जाता है। 15 वर्ष की सेवा वाले कार्मिक उत्कृष्ट सेवा पदक के लिए पात्र हैं, जबकि 25 साल की सेवा के स्वच्छ रिकॉर्ड वाले पुलिस कर्मी अति उत्कृष्ट सेवा पदक के लिए पात्र होते हैं। ये पुरस्कार दोनों श्रेणियों के लिए सभी रैंक के अधिकारियों को दिए जाते हैं। प्रत्येक रैंक के लिए गठित समिति द्वारा उनके द्वारा किए गए कार्यों का आकलन करने के बाद सूची को अंतिम रूप दिया जाता है।

खबरें और भी हैं...