झांसी पुलिस ने काबू किए 4 गैंगस्टर:25 साल से अपराध में सक्रिय सरगना पर दर्ज हैं 23 केस, 6 माह से थी तलाश

झांसी10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिला बतर और गैंगस्टर एक्ट में पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया। - Dainik Bhaskar
जिला बतर और गैंगस्टर एक्ट में पुलिस ने 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया।

झांसी पुलिस ने जिला बदर और गैंगस्टर एक्ट में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस को इनकी करीब 6 माह से तलाश थी। चारों आरोपियों ने मिलकर 6 अप्रैल 2016 में सुंदर ठाकुर की पत्थर से कुचलकर हत्या की थी। गैंग का सरगना करीब 25 साल से अपराध में सक्रिय है और उसके खिलाफ 23 केस दर्ज हैं।
दो दिन में पकड़े गए चारों आरोपी
सिटी पुलिस अधीक्षक विवेक त्रिपाठी ने बताया कि प्रेम नगर थाना पुलिस ने सीपरी बाजार के संगम विहार कॉलोनी निवासी सरताज उर्फ गुड्‌डे (47) पुत्र मुस्ताक खां, प्रेमनगर के स्कूलपुरा निवासी मोहम्मद आविद शेख (35) पुत्र शाविर, जीशान शेख उर्फ वाहिद (37) पुत्र शाविर हुसैन और प्रेमनगर के नूरनगर निवासी महमूब अली उर्फ महमूद (42) पुत्र लियाकत अली को गिरफ्तार किया है।
आरोपी सरताज पर जिला बदर किया गया था, लेकिन वह झांसी में ही घूम रहा था। वह जिला बदर और गैंगस्टर एक्ट वांछित था। बुधवार को उसे सीपरी बाजार से काबू किया गया। वहीं, गैंगस्टर एक्ट में फरार चल रहे मोहम्मद आविद और जीशान को नगराहाट टैक्सी स्टैंड के पास से गिरफ्तार किया गया। गुरुवार को महमूब अली को नगर की पुलिया के पास से काबू किया।
आरोपी सरताज पर हैं 23 केस
गैंग के सरगना सरताज पर हत्या, हत्या की कोशिश, चोरी, लूट समेत अन्य धाराओं में 23 केस दर्ज हैं। उसने 1996 में अपराध में कदम रखा था। तब वह चोरी के केस में पकड़ा गया था। 2000 में सदर बाजार थाना क्षेत्र में मर्डर कर वह सुर्खियों में आया। इसके बाद वह अपराध करता चला गया।

उसपर मर्डर के 3, हत्या की कोशिश के 2, लूट के 4, आर्म्स एक्ट के 3 समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज हैं। वहीं, जीशान व आबिद पर हत्या व जान से मारने की धमकी के 2-2 केस दर्ज हैं। महमूद पर हत्या का एक केस दर्ज है।
पकड़े वाली टीम को 25 हजार का इनाम
चारों आरोपियों को पकड़ने वाली टीम को एसएसपी शिवहरि मीना ने 25 हजार रुपए का इनाम दिया है। टीम में प्रेम नगर थाना प्रभारी जेपी पाल, एसएसआई जगमोहन सिंह, एसआई अनिल कुमार, हेड कांस्टेबल कृष्णकांत यादव, सिपाही नवीनपाल, ध्रुप सिंह, विपिन कुमार और मधुरेश कुमार शामिल थे।