• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Jhansi :Pradhan Stole A Bag Containing Jewelery And Money From A House In The Village; Pradhan Was Seen Carrying The Bag In The CCTV Footage

झांसी में चोरी के आरोप में ग्राम प्रधान गिरफ्तार:मकान से रुपयों और जेवर से भरा बैग लेकर भागा, बचने के लिए अपहरण का किया नाटक, पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर पकड़ा

झांसी6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शुक्रवार को प्रधान समर्थक लोग वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पास पहुंचे थे। - Dainik Bhaskar
शुक्रवार को प्रधान समर्थक लोग वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पास पहुंचे थे।

झांसी के बल्लमपुर के ग्राम प्रधान को एक मकान से जेवर और नकदी चोरी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। बाइक पर थैला ले जाते हुए प्रधान की तस्वीरें सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। चोरी की सूचना मिलने पर पुलिस ने गांव में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला। जिसके बाद पुलिस ने ग्राम प्रधान को गिरफ्तार कर लिया।

महिला ने प्रधान पर लगाया चोरी का आरोप

बल्लमपुर गांव की निवासी नीता राय ने 30 जुलाई को पुलिस को दिए शिकायती पत्र में प्रधान संतोष राय पर चोरी का आरोप लगाया है। उसने बताया कि उसका बेटा शिवम राय अपने ताऊ सुरेन्द्र राय निवासी राजगढ़ जो कि जिला जालौन के उरई में पार्टनरशिप पर बालू घाट चलाते हैं। उनके घाट काम देखता है। 30 जून को घाट बंद हो गया था। उसने बिक्री के 28 लाख 50 हजार रुपए अपने घर पर रखे थे। ये पैसा पार्टनरों को बांटना था। किसी कारणवश वह ये पैसा नहीं बांट पाया था। एक गोल्ड का बिस्कुट उसके ससुर साहब स्व. रामकिशन राय ने उसकी बेटी की शादी के लिए 2010 में दिया था। वह भी उन्हीं पैसों के साथ रखा हुआ था। एक सोने का बिस्कुट और एक तीन ग्राम का सोने का टुकड़ा भी साथ में था।

प्रधान संतोष राय से पीड़िता के थे पारिवारिक संबंध
नीता के मुताबिक बल्लमपुर के प्रधान संतोष राय का काफी समय से पारिवारिक संबंध थे। इसलिए उसके बेटे शिवम ने उन्हें काम चलाने के लिए घाट के पैसों में से तीन लाख रुपये दिए थे। उसी समय संतोष राय ने घर पर रखे पैसों व सोने के सामान को देख लिया था। संतोष राय 22 जुलाई 2021 को उनके घर आकर तीन लाख रुपया वापस कर गया था। दूसरे ही दिन 23 जुलाई को दोपहर संतोष राय अपने बच्चों के साथ उसके घर आया व कुछ समय बाद उसका छोटा भाई अरविन्द राय उसके घर दोपहर दो बजे आया और बोला कि भाभी घर पर एक झाड़ फूंक करने वाला आया है। आपकी तबीयत ठीक नहीं रहती आप चलो हमारे घर जल्दी चलो उसे जाना है। उसी समय संतोष राय उससे बोला कि भाभी आप अरविन्द के साथ घर जाओ। मैं आपके घर पर रहता हूं। ,मैं उसकी बातों में आकर अरविन्द के साथ उसके घर पर चली गई और संतोष को अपने घर पर रहने के लिए छोड़ गई।

महिला की शिकायत पर प्रधान पर हुई चोरी की एफआईआर
महिला ने बताया जब मैं उसके घर गई तो वहां उनकी मम्मी से पूछने पर उन्होंने कहा कि हमारे यहां तो कोई नहीं आया है। अरविन्द बोला आप बैठो मैं मुर्गा फार्म पर देखकर आता हूं कि वह वहां पर तो नहीं है। उसे अपने घर पर छोड़ कर चला गया। करीब आधा घंटे बाद लौटा और बोला कि वह तो चला गया है। मैं जब अपने घर पहुंची तो वहां पर संतोष राय व उनके बच्चे मौजूद थे। इनके जाने के बाद मुझे आशंका हुई कि उसके घर में कुछ छानबीन की गई है। जब उसने घर में रखे पैसों व सोने को देखा तो वह गायब थे। जबकि सुबह ही उसने अपने सामान व पैसों को उस जगह पर रखा देखा था। शिकायती पत्र में कहा है कि संतोष राय व अरविन्द राय ने सोने व पैसा चोरी किया है। इस मामले को एसएसपी ने गंभीरता से लिया और मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया। इस आदेश के बाद पुलिस ने संतोष राय आदि के खिलाफ चोरी का मुकदमा दर्ज कर लिया।

पुलिस ने किया गिरफ्तार
शिवम राय के मकान से प्रधान संतोष राय बाहर निकला और बाइक पर सवार होकर चला गया। गाड़ी पर एक थैला नजर आ रहा है। इसी थैले में नोट व जेवरात रखे हुए हैं। कुछ दूरी पर जाकर थैला उसने अपने छोटे भाई अरविन्द राय को दे दिया। इस मामले की जानकारी पुलिस को हुई तो पुलिस ने देर रात दबिश देकर संतोष राय को पकड़ लिया।

अपहरण का किया नाटक
शुक्रवार को प्रधान समर्थक लोग वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पास पहुंचे थे। उन्होंने आरोप लगाया था कि ग्राम प्रधान संतोष राय का अपहरण हो गया है। इस मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस अफसर हरकत में आ गए। पुलिस ने जब उसको पकड़ा तो पता चला कि प्रधान का अपहरण नहीं हुआ था बल्कि वो कही छुपा हुआ था।

खबरें और भी हैं...