पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Railway Water Took The Life Of A Young Man In Jhansi; While Drinking Water On The Tap In The Park, The Railways Said That The Death Occurred Due To Other Circumstances.

करंट से गई युवक की जान:झांसी में रेलवे के पानी ने ले ली एक युवक की जान; पार्क में लगे नल पर पानी पीते समय लगा करंट,रेलवे ने कहा अन्य परिस्थितियों से हुई मौत

झांसी20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मां-बेटा रैन बसेरा में रहते थे, सुबह होते ही बेटा पेट भरने के लिए ट्रेनों में झाड़ू लगाने चला जाता था। - Dainik Bhaskar
मां-बेटा रैन बसेरा में रहते थे, सुबह होते ही बेटा पेट भरने के लिए ट्रेनों में झाड़ू लगाने चला जाता था।

झाँसी। मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय के सामने बने पार्क में लगे नल पर पानी पीते समय एक युवक को करंट लग गया जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना की जानकारी लगते ही वहां लोग जमा हो गए। लोगों ने इस मौत के लिए रेलवे के बिजली विभाग के अधिकारीयों की लापरवाही मानी है। इस मामले में मृतक की मां ने रेलवे अफसरों के खिलाफ लिखित तहरीर देते हुए मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। उधर, रेलवे ने कहा कि युवक की मौत करंट से नहीं है, अन्य परिस्थितियों से हुई है। हालांकि उक्त मामले में पुलिस ने जांच शुरु कर दी है।

रेलवे की लापरवाही से गई जान

महोबा के अजनर क्षेत्र में रहने वाला सोनू कुशवाहा झाँसी रेलवे स्टेशन के पास भीख मांगता था। इसके अलावा वह ट्रेनों में झाड़ू लगने पर मिलने वाले पैसों से वह अपना भरण पोषण करता था। उसके साथ मां मीरा देवी भी रहती थी। मां-बेटा रैन बसेरा में निवास करते थे। सुबह होते ही बेटा पेट भरने के लिए ट्रेनों में झाड़ू लगाने चला जाता था। रविवार की सुबह मां और बेटा मंडल रेल प्रबंधक के सामने बने पार्क की पट्टी पर बैठे हुए थे। इसी बीच सोनू कुशवाहा का प्यास लगी तो वह दीवार फांदकर पार्क में लगे नल पर पानी पीने चला गया। जैसे ही उसने नल में अपना मुंह लगाया तो उसे करंट लग गया जिससे वह नल के पास से गिर गया। मुंह से झांक भी निकल गई। यह दृश्य देख मां ने शोर मचाया तो वहां पर लोग इकट्ठा हो गए। लोगों ने देखा तो पता चला कि युवक की मौत हो चुकी है। जानकारी मिलने ही मां मीरा देवी ने रोना शुरु कर दिया। इसकी सूचना मिलते ही नवाबाद थाना प्रभारी विजय शंकर पांडेय, इलाइट चौकी प्रभारी अजीत कुमार सिंह मय स्टॉफ के साथ मौके पर पहुंची। पुलिस ने स्थानीय लोगों से वार्ताकर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। पुलिस का कहना है कि करंट लगने से मौत हुई है।

मौत की खबर सुनते ही मां बेहोश हो गई

बेटा की मौत की जानकारी मिलते ही मां के आंसू नहीं रुक सके, उसका कहना था उसका इकलौटा बेटा था। वह सुबह व शाम तक भीख मांगकर उसका भरण पोषण करता था। पति महोबा में रहते हैं। जब कमाने वाला बेटा ही चला गया तो जीना भी बेकार है। बेटा की मौत की खबर मिलते ही मां कुछ देर के लिए बेहोश हो गई। बाद में पानी का छिड़काव कर उसे उठाया। बाद में मां को पोस्टमार्टम कक्ष भेज दिया। यहां पर भी रो-रोकर मां की हालात गंभीर बनी हुई है। मां मीरा देवी का कहना है कि रेलवे पार्क में बेटा की मौत करंट से हुई है। इस मामले में नवाबाद थाने में लिखित तहरीर दी है। तहरीर के आधार पर बेटा की मौत के लिए रेलवे के विद्युत विभाग की लापरवाही है। ऐसे लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

रेलवे ने नहीं मानी विभाग की लापरवाही ​​​​​​,​अन्य कारण से भी हो सकती हैं मौत

पीआरओ मनोज कुमार सिंह का कहना है कि रेल इंजन पार्क में सीनियर डीईई-जनरल और आरपीएफ के मंडल सुरक्षा आयुक्त द्वारा घटना का निरीक्षण किया गया। पार्क के अन्दर खम्मे के पास एक केबिल का कटा हुआ टुकड़ा पड़ा है और एक टूटा हुआ स्टे वायर पड़ा है जिसमें कोई बिजली सप्लाई नहीं है , आज जिस बहारी व्यक्ति की मृत्यु हुई है, किसी अन्य कारण से भी हुई हो सकती।

खबरें और भी हैं...