झांसी में तालीबानी पिटाई के पीड़ित के पास पहुंचा भास्कर:बोला- ऑटो चलाने का हफ्ता नहीं दिया, इसलिए दबंगों ने बेरहमी से पीटकर हाथ-पैर तोड़े

झांसीएक महीने पहले
मारपीट में घायल आरिफ खान अस्पताल में भर्ती है।

झांसी में ढाबे के अंदर डंडे से युवक को पीटने का वीडियो वायरल होने के बाद दैनिक भास्कर पीड़ित के पास पहुंच गया। उसे इतनी बेरहमी से पीटा गया कि 7 दिन से वह सिविल अस्पताल में एडमिट है और उसके हाथ-पैर में फैक्चर है।

पीड़िता का कहना है कि वह ऑटो चलाता है। आरोप है कि रास्ते में एक गांव के दबंग युवक ऑटो चलाने का हफ्ता मांगता है। 15 दिन पहले पुलिस को शिकायत की। लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। अब दंबग व उसके साथियों ने ये हालत की है।

भाभी के साथ शादी से लौट रहा था

पिटाई से आरिफ खान के हाथ और पैर में फैक्चर हो गया।
पिटाई से आरिफ खान के हाथ और पैर में फैक्चर हो गया।

सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के काशीराम कॉलोनी निवासी आरिफ खान (25) पुत्र महमूद खान ऑटो चलाता है। आरिफ खान का आरोप है कि करारी निवासी बृजेश हफ्ता मांग रहा था। उसने ग्रासलैण्ड चौकी में शिकायत की। सिपाही बोला कि समझा दिया है अब कोई परेशान नहीं करेगा।

21 जून को वह भाभी रोशनी को लेकर एक शादी में शामिल होने के लिए मऊरानीपुर गया था। अगले दिन 22 जून को वह ऑटो से घर लौट रहा था। करारी में बृजेश,भोला और ईशू ने उसकी ऑटो रोक ली और मारपीट की।

एक मिनट में मारे 30 डंडे

पीड़ित का कहना है कि वह बचने के लिए पास के एक ढाबा में घुस गया। पीछे भागते हुए आरोपियों ने ढाबा के अंदर घुसकर डंडे से बेहरमी से पिटाई की। एक मिनट में करीब 30 डंडे मारे। उसकी भाभी बचाने की गुहार लगाती रही। लेकिन कोई भी बचाने नहीं आया। अधमरा करके आरोपी भाग गए। इसके बाद परिवार के लोग मौके पर पहुंचे और घायल को सिविल अस्पताल में एडमिट कराया।

हफ्ता मांगने का मामला नहीं है

ग्रासलैंड चौकी इंचार्ज हिमांशु का कहना है कि हफ्ता मांगने का मामला नहीं है। दोनों एक-दूसरे को जानते हैं। आरिफ के भाई कादिर की शिकायत पर आईपीसी की धारा 323, 506, 504 का मामला दर्ज हुआ था। फैक्चर होने पर धारा 325 इजाद की है। तीनों आरोपियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की गई है।