• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Servant And Friend Get Life Imprisonment For Killing Mistress In Jhansi, 85 Year Old Woman Used To Live Alone, Had Murdered 4 Years Ago With The Intention Of Robbery

झांसी...मालकिन की हत्या में नौकर और दोस्त को उम्रकैद:85 साल की महिला अकेली रहती थी, 4 साल पहले लूट के इरादे से किया था मर्डर

झांसीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

झांसी में 4 साल पहले मालकिन की हत्या करने वाले दोषी नौकर और उसके दोस्त को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है। दोनों पर 25-25 हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया गया। कोर्ट ने जुर्माने की राशि अदा नहीं करने पर उनकी संपत्ति से वसूलने के आदेश दिए हैं। यह फैसला मंगलवार को विशेष न्यायाधीश इंदु द्विवेदी ने सुनाया है। हत्या के बाद से ही दोनों दोषी जेल में बंद हैं।

चाकू ने रेत दी थी गर्दन

सैंयरगेट की रहने वाली लाड कुंवारी (85) घर में अकेली रहती थी। उनके घर पर सुकुवां ढुकवां कॉलोनी निवासी प्रमोद रायकवार पुत्र धनीराम साफ सफाई का काम करता था। जहां पर उसका दोस्त डाइड्रिल कॉलोनी निवासी अभिषेक सिंह चंदेल उर्फ बंटी पुत्र भूपेंद्र सिंह भी आता था। जुलाई 2017 में दोनों ने चोरी व लूट के इरादे से घर में घुसकर लाडकुवारी की गर्दन रेत कर हत्या कर दी थी। पुलिस ने दोनों को अगले दिन ही गिरफ्तार कर लिया था।

घर में खुली पड़ी थी अलमारी

लाड कुंवारी का बेटा डॉ. राजेंद्र सिंह थोड़ी दूर दूसरे मकान में रहता था। 5 जुलाई 2017 की शाम 4:45 बजे वह मां के घर पहुंचा। आवाज देने पर मां ने दरवाजा नहीं खोला। अंदर गया तो अलमारी खुली पड़ी थी और उसका सामान पलंग व जमीन पर बिखरा पड़ा था। तब वह चिल्लाकर घर के आंगन में गया तो अंदर वाले कमरे की भी अलमारी खुली पड़ी थी।

जब हाल में पहुंचा तो नौकर प्रमोद और अभिषेक बाहर निकलते हुए दिखे। दोनों के हाथों में चाकू थे। अभिषेक अपना खून से सना चाकू मौके पर ही फेंककर भाग गया था। तब बेटे ने मां को ढूंढ़ा तो उनका शव खून से लथपथ पलंग के नीचे मिला था।