• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • Big Breaking News, Agra News, Lucknow News, Kanpur News, Varanasi News, Prayagraj News, Meerut News, Yogi Adityanath, Akhilesh Yadav, UP Vidhan Sabha News,

रानी की झांसी में महिलाओं को नहीं मिलता सिंहासन:आजादी से अब तक सिर्फ 3 विधानसभा पहुंची, गरौठा में कभी विधायक महिला नहीं बनीं

झांसी10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अपना दल एस और भाजपा गठबंधन प्रत्याशी पूर्व विधायक डॉ. रश्मि आर्य, जन अधिकार पार्टी की बृजकंवर और शिवसेना से मीना कुमारी ने चुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत झौंक दी है। - Dainik Bhaskar
अपना दल एस और भाजपा गठबंधन प्रत्याशी पूर्व विधायक डॉ. रश्मि आर्य, जन अधिकार पार्टी की बृजकंवर और शिवसेना से मीना कुमारी ने चुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत झौंक दी है।

वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई की झांसी में अब महिलाएं घूंघट छोड़कर राजनीति में आगे बढ़ने लगी है। हालांकि यहां महिलाओं को कम ही जनाधिकार मिला है। आजादी से अब तक सिर्फ 3 महिलाएं विधानसभा तक पहुंच पाई हैं। जबकि गरौठा विधानसभा से अब तक एक भी बार महिला विधायक नहीं बनी। इस बार झांसी में 7 महिलाएं चुनावी मैदान में उतरी हैं। गरौठा और मऊरानीपुर में 3-3 महिलाओं ने चुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत झौंक दी है, जबकि बबीना विधानसभा में सिर्फ एक महिला प्रत्याशी है। झांसी में एक भी महिला प्रत्याशी इस बार चुनावी रण में नहीं है। इस बार झांसी में एक सीट महिला को मिल सकती है। मऊरानीपुर सीट से अपना दल एस और भाजपा गठबंधन प्रत्याशी पूर्व विधायक डॉ. रश्मि आर्य कड़ी टक्कर दे रही हैं।

मऊरानीपुर में भाजपा को बागियों से डर
मऊरानीपुर से इस बार 10 प्रत्याशियों ने चुनावी रण में ताल ठोकी है। इसमें से अपना दल एस और भाजपा गठबंधन प्रत्याशी पूर्व विधायक डॉ. रश्मि आर्य, जन अधिकार पार्टी की बृजकंवर और शिवसेना से मीना कुमारी ने चुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। मऊरानीपुर से भाजपा विधायक बिहारी लाल आर्य की टिकट कट गई और कुछ उम्मीदवार टिकट न मिलने से बागी होकर फील्ड में जाकर रश्मि आर्य के विरोध में प्रचार कर रहे हैं।

जिस सीट पर कभी महिला विधायक नहीं बनी, वहां 3 महिला प्रत्याशी

कांग्रेस प्रत्याशी नेहा निरंजन, अखिल भारतीय सोशलिस्ट पार्टी प्रत्याशी पूनम सिंह और निर्दलीय प्रेम कुमारी खंगार।
कांग्रेस प्रत्याशी नेहा निरंजन, अखिल भारतीय सोशलिस्ट पार्टी प्रत्याशी पूनम सिंह और निर्दलीय प्रेम कुमारी खंगार।

गरौठा विधानसभा सीट से इस बार 14 उम्मीदवारों ने चुनाव में ताल ठोंकी हैं। इसमें 3 महिला प्रत्याशी कांग्रेस की नेहा निरंजन, अखिल भारतीय सोशलिस्ट पार्टी से पूनम सिंह और निर्दलीय प्रेम कुमारी खंगार मैदान में हैं। इस सीट से कभी महिला विधायक नहीं बनी। इस बार भी महिलाओं के लिए यहां पर डगर बहुत मुश्किल दिख रही है। बबीना विधानसभा में 11 प्रत्याशियों में सिर्फ जन अधिकार पार्टी की रानी देवी मैदान में हैं।

ये 3 महिलाएं विधानसभा तक पहुंची

4 बार विधायक रही बेनीबाई और जन अधिकार पार्टी की प्रत्याशी रानी देवी
4 बार विधायक रही बेनीबाई और जन अधिकार पार्टी की प्रत्याशी रानी देवी

झांसी में अब तक सिर्फ तीन महिलाएं विधानसभा तक पहुंच पाई हैं। 4 बार विधायक रही बेनीबाई 1967 व 1674 में मऊरानीपुर से विधायक बनीं। इसके बाद उन्होंने बबीना विधानसभा की ओर रुख कर लिया। बबीना से वह 1980 और 1985 में विधायक रहीं। वह प्रदेश सरकार में मंत्री भी रह चुकी हैं।

इसके बाद बबीना से कोई महिला विधायक नहीं बनी। वहीं, मऊरानीपुर में बेनीबाई के बाद 2012 में डॉ. रश्मि आर्य सपा के टिकट से विधायक बनी थी। जबकि झांसी सदर विधानसभा सीट से एक बार आधी आबादी को प्रतिनिधत्व मिला। यहां से 1977 में जनता पार्टी की प्रत्याशी सूर्यमुखी शर्मा ने जीत दर्ज की थी।

15 लाख में 7 लाख महिला वोटर हैं
झांसी में पुरुषों की तुलना में महिला वोटर्स की संख्या करीब एक लाख कम है। यहां पर कुल वोटरों की संख्या करीब 15 लाख 16 हजार है। इसमें से 8 लाख 5 हजार 358 पुरुष और 7 लाख 6 हजार 177 महिला वोटर्स इस बार मतदान करेंगे। सबसे ज्यादा मऊरानीपुर विधानसभा में वोटर्स है।

खबरें और भी हैं...