अवैध कब्जा मिला तो लेखपाल होंगे सीधे बर्खास्त:झांसी में CM के दौरे के बाद सख्ती, लेखपालों को अवैध कब्जा न होने का प्रमाण पत्र देना होगा

झांसीएक महीने पहले
थाना समाधान दिवस पर शिकायतें सुनते कमिश्नर व डीआईजी।

झांसी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दौरे के बाद अवैध कब्जा और अवैध तरीके से अर्जित संपत्ति पर पुलिस और प्रशासन ने कार्रवाई तेज कर दी है। शनिवार को थाना समाधान दिवस पर निरीक्षण के दौरान नवाबाद व प्रेमनगर थाना पहुंचे कमिश्नर और डीआईजी ने राजस्व विभाग और लेखपालों को स्पष्ट निर्देश दिए कि अपने अपने क्षेत्रों में अवैध कब्जा न होने का प्रमाण पत्र दें। इसके बाद एसआईटी ने अवैध कब्जा पाया तो संबंधित लेखपाल को सीधे बर्खास्त किया जाएगा।

पहले समझाएं, नहीं मानते तो चलाए बुलडोजर

थाना समाधान दिवस पर कमिश्नर डॉ. अजय शंकर पांडेय और डीआईजी जोगेंदर कुमार प्रेमनगर और नवाबाद थाने पहुंचे। वहां लेखपालों व राजस्व विभाग की टीम के साथ समीक्षा की। लेखपालों को निर्देश दिए की जो भी सरकारी व गैर सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जे किए है, उन्हें समझाकर खाली कराएं। फिर भी अवैध कब्जा नहीं हटाते है तो उसकी रिपोर्ट दे। इसके बाद बुलडोजर चलाया जाएगा।

एसआईटी की जांच में फंसेंगे लेखपाल

थाने में लेखपाल और राजस्व विभाग की टीम के साथ बैठक करते कमिश्नर व डीआईजी।
थाने में लेखपाल और राजस्व विभाग की टीम के साथ बैठक करते कमिश्नर व डीआईजी।

कमिश्नर ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि अवैध कब्जों में लेखपाल की भूमिका संदिग्ध होती है। इसलिए एसआईटी गठित की है। जो गांवों व कस्बों में जाकर अवैध कब्जों का निरीक्षण करेगी। अगर एसआईटी ने अवैध कब्जे की रिपोर्ट सौंपी तो उस क्षेत्र के लेखपाल के खिलाफ कार्यवाही होगी। साथ ही बर्खास्तगी भी कराई जाएगी।

3 शिकायतों पर समाधान के निर्देश

डीआईजी ने कहा नवाबाद थाना मे तीन शिकायतें मिली। सभी में मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण करने व कार्रवाई करने के निर्देश दिए है। जो भी अपराधी भू-माफिया अवैध कब्जे किए है। उन पर कार्रवाई होगी। जेडीए और नगर निगम को निर्देश दिए गए है कि वे अवैध कब्जों की सूची तैयार कर उपलब्ध कराएं। इसके बाद योजना बनाकर अवैध कब्जे मुक्त कराए जाएंगे।

इधर, पूर्व उप सभापति के मकान पर चला बुलडोजर

प्रशासन ने पूर्व उप सभापति के मकान पर बुलडोजर चलाकर अवैध कब्जा हटाया।
प्रशासन ने पूर्व उप सभापति के मकान पर बुलडोजर चलाकर अवैध कब्जा हटाया।

नगर निगम और जेडीए की संयुक्त टीम पुलिस के साथ बुलडोजर लेकर लहरगिर्द गांव के पास पहुंची। वहां 2016 में उप सभापति रहे गुलजार यादव के मकान पर बुलडोजर चलाया गया। वे करीब 20 हजार स्क्वायर फीट जमीन पर अवैध कब्जा किए थे। पिछले साथ उनको जमीन खाली करने के लिए नोटिस दिया था।

जमीन खाली नहीं होने पर शनिवार को टीम ने बुलडोजर चलाकर अवैध जमीन पर बनी बिल्डिंगों को ध्वस्त कर दिया। यहां पर गुलजार ने डेयरी, भूसा घर, दुकानें आदि बना रखी थी। बुलडोजर चलाकर अवैध कब्जे को हटा दिया गया। यह जमीन करोड़ों रुपए की है।