घर के सामने कूड़ा रखने पर युवक की हत्या:झांसी में पड़ोसी ने सीने में चाकू घोपकर आपे ड्राइवर को मार डाला

झांसीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

झांसी में बुधवार देर रात में पड़ोसी ने सीने में चाकू घोपकर आपे ड्राइवर की हत्या कर दी। पड़ोसी पीड़ित के घर के सामने कूड़ादान रख रहा था। मना करने पर हुए विवाद में आरोपी ने सीने पर ताबड़तोड़ 4 से 5 वार किए। हत्या के बाद आरोपी घर लॉक करके भागने लगा। तभी लोगों ने पकड़कर धुनाई कर दी और उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

घायल भगवानदास अहिरवार को चेक करते परिजन।
घायल भगवानदास अहिरवार को चेक करते परिजन।

कूड़ादान रखने से मना किया तो गुस्सा हुआ पड़ोसी

सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के नई काशीराम कॉलोनी निवासी भगवानदास अहिरवार (52) दीवान अहिरवार आपे चलाते थे। पत्नी अंगूरी देवी ने बताया कि “वे तीसरी मंजिल पर रहती हैं। दूसरी मंजिल पर रिश्तेदार का घर है। रिश्तेदार बाहर रहते हैं, इसलिए उनका सामान रखा हुआ था। रिश्तेदार के घर के सामने दिनेश पेंटर रहता है।

रोजाना की तरह बुधवार शाम को दिनेश पेंटर ने कूड़ादान रिश्तेदार के घर के सामने रख दिया। रात करीब 8 बजे मैंने मना किया तो उल्टा-सीधा बोलने लगा। तब मेरे पति नीचे आए और समझाने लगे। तब दिनेश गाली गलौच करने लगा। विवाद बढ़ने पर मैंने पति को ऊपर घर में भेज दिया।”

चाकू लेकर घर में पहुंचा आरोपी

मेडिकल कॉलेज में पति को मृत घोषित करने के बाद विलाप करती पत्नी
मेडिकल कॉलेज में पति को मृत घोषित करने के बाद विलाप करती पत्नी

आगे पत्नी ने बताया कि “झगड़े के दौरान आरोपी दिनेश अपने घर चला गया और लंबा चाकू उठाकर लाया। ऊपर चढ़ते हुए सीढ़ियों पर आरोपी ने पति भगवानदास के सीने में चाकू से हमला कर दिया। चाकू लगने के बाद पति गिर गए। उनको मेडिकल कॉलेज ले गए तो डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।”

बीमार थे, इसलिए आपे चलाने नहीं गए

भगवानदास की दो दिन से तबीयत खराब थी। इसलिए बुधवार को वे आपे चलाने के लिए नहीं गए थे। उनके 3 बेटे भरत (25), राहुल (23) और भूपेंद्र (20) हैं। तीनों बेटे काम पर गए थे। वहीं, हत्या के बाद आरोपी चाकू छुपाकर घर का ताला लगाकर भागने लगा। तब लोगों ने उसे पकड़ लिया और धुनाई की।