• Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Jhansi
  • The Stir Over The Arrival Of The Prime Minister On The Birth Anniversary Of Rani Jhansi Intensified; Can Lay The Foundation Stone Of Schemes Worth Rs 806.57 Crore

झांसी में प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर तैयारी तेज:19 नवम्बर को रानी लक्ष्मीबाई की जयंती पर PM आ सकते है झांसी, 806.57 करोड़ रुपये की योजनाओं का कर सकते है शिलान्यास

झांसी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीएम के आगमन की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ अक्टूबर महीने में कभी भी जिले के दौरे पर आ सकते हैं। - Dainik Bhaskar
पीएम के आगमन की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए सीएम योगी आदित्यनाथ अक्टूबर महीने में कभी भी जिले के दौरे पर आ सकते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 नवंबर को वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई की जयंती पर झांसी आ सकते है। प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर प्रशासन ने तैयारियां शुरु कर दी है। प्रधानमंत्री 806.57 करोड़ रुपये की नौ योजनाओं का शिलान्यास कर सकते हैं , जो अभी प्रस्तावित है। उससे पहले मुख्यमंत्री भी व्यवस्थाओं का जायजा लेने झांसी आ सकते है। झांसी के मेला ग्राउंड पर हैलीकॉप्टर के लैडिंग का ट्रायल किया जा रहा है। प्रशासन ने अभी से तैयारियां शुरु कर दी हैं।

चुनाव का बिगुल का ऐलान झांसी से कर सकते हैं

विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारी शुरू हो गई है। यूपी में पुनः सत्ता में वापसी के लिए भाजपा तैयारियों में जुटी है। इसी क्रम में बताया जा रहा है कि रानी लक्ष्मीबाई की जयंती 19 नवम्बर के दिन वह झांसी आ सकते हैं। वह यूपी में होने वाले विधानसभा चुनाव का बिगुल का ऐलान झांसी से कर सकते हैं। उनके आगमन को लेकर अभी से प्रशासन ने तैयारियां शुरु कर दी है। मेला ग्राउंड में हेलिकॉप्टर लैडिंग का ट्रायल किया गया है। साथ ही सुरक्षा व्यवस्था की भी प्लानिंग की जा रही है।

ज्यादा से ज्यादा लोगो को वैक्सीन लगाने पर जोर

पीएम के आने से पहले जिले की 18 साल से अधिक आयु की पूरी आबादी को कोरोना वैक्सीन लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसके लिए लगातार महाअभियान चलाया जायेगा। झांसी में कोविड टीकाकरण की शुरूआत 16 जनवरी से हुई थी। जिले में अब तक 417 गांव को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इसके अलावा जिले में 15.89 लाख लोगों को वैक्सीन लगाई जानी है।

इनमें से अब तक 11 लाख से अधिक का टीकाकरण किया जा चुका है। इनमें 9.23 लाख लोग ऐसे हैं, जिन्हें अभी पहली ही डोज लगी है। जबकि, 2.14 लाख को दोनों डोज लगाई जा चुकी है। लेकिन, अब प्रशासन ने तय किया है कि प्रधानमंत्री के झांसी आगमन से पहले शत प्रतिशत टीकाकरण कर दिया जाएगा। इसके लिए महाअभियान चलेंगे। इसी कड़ी में सोमवार को एक ही दिन में 64,000 लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। विदित हो कि टीकाकरण के मामले में झांसी प्रदेश में पांचवें पायदान पर है।

योजनाओं को बढ़ाने और आईजीआरएस की शिकायतों के निस्तारण पर जोर

प्रधानमंत्री के आगमन की तैयारियों को अंतिम रूप देने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अक्तूबर महीने में कभी भी जिले के दौरे पर आ सकते हैं। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री को आगमन को लेकर अफसर सक्रिय हो गए हैं। आईजीआरएस की शिकायतों का निस्तारण तेजी से किया जा रहा है। जिले में 806.57 करोड़ रुपये की योजनाओं का शिलान्यास प्रस्तावित है।

इसमें नौ योजनाएं शामिल हैं, जिसमें पांच नगर निगम और चार जलनिगम निर्माण खंड से संबंधित जल जीवन मिशन के अंतर्गत ग्राम समूह पेयजल योजनाएं शामिल हैं। शिलान्यास कार्यक्रम के लिए यह योजनाएं बहुत कम हैं। इनको कम से कम एक हजार करोड़ रुपये का होना चाहिए, इसलिए मंथन चल रहा है कि और कौन सी योजनाओं को जोड़ा जाए।

जिले में निर्माणाधीन पचास लाख रुपये तक की परियोजनाओं के निर्माण कार्य में तेजी लाने के निर्देश अधिकारियों को दे दिए गए हैं। अधिकारियों को बोला गया है, कि परियोजनाओं को पूरा करने में किसी तरह की लापरवाही न बरती जाए। यही नहीं, आईजीआरएस में पेंडिंग पड़ी शिकायतों के निस्तारण पर जोर दिया गया है। छुट्टा जानवरों के घूमने पर सख्ती से रोक लगाने को कहा गया है।

खबरें और भी हैं...