सुसाइड:जालौन में बंद कमरे में एक ही फंदे से लटके मिले दंपती, तीन दिन पुराना बताया जा रहा शव, खुदकुशी के कारणों का पता नहीं

जालौनएक वर्ष पहले
यह फोटो जालौन की है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
  • माधौगढ़ कोतवाली क्षेत्र के अंबेडकरनगर का मामला
  • मकान से दुर्गंध उठने पर पड़ोसियों ने पुलिस को जानकारी दी

उत्तर प्रदेश के जालौन में सोमवार को एक दंपती का शव फंदे से लटकता मिला है। मामला माधौगढ़ कोतवाली क्षेत्र के अंबेडकरनगर का है। पड़ोस में रहने वाले लोगों को मकान के अंदर से दुर्गंध आई तो उन लोगों को पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने घटना स्थल पर पहुंचकर मकान का दरवाजा खोला तो मकान के एक कमरे में दंपती के शव लटके थे। दंपती ने खुदकुशी क्यों की? इसका जवाब अभी नहीं मिल सका है। शव दो से तीन दिन पुराना बताया जा रहा है।

कई दिनों से नहीं खुल रहा था दरवाजा

अंबेडकरनगर नगर इलाके में राम दुलारे और उसकी पत्नी सुशीला एक मकान में रहते थे। लेकिन कई दिनों से उनके घर का दरवाजे नहीं खुल रहा था। आज सुबह लोगों ने उनके मकान से दुर्गंध महसूस की। जिसके बाद आस-पड़ोस के लोगों ने रामदुलारे को आवाज देकर बुलाया। लेकिन कोई जवाब न मिलने पर इसकी सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और उन्होंने दरवाजा खोलने का प्रयास किया। लेकिन दरवाजा अंदर से बंद होने के बाद पुलिस ने छत से चढ़कर दरवाजा खोला।

फोरेंसिक टीम ने जुटाया साक्ष्य

मकान के एक कमरे में दंपती के शव फंदे से लटके थे। दोनों के शवों को देखकर ऐसा लग रहा है कि खुदकुशी 2 से 3 दिन पहले की गई है। पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद शव को नीचे उतारा और उन्हें कब्जे में लेकर पंचनामा भरते हुए पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वही पुलिस इस मामले की छानबीन में जुटी है कि दंपत्ति ने किन कारणों से आत्महत्या की है। माधौगढ़ के प्रभारी निरीक्षक बीएल यादव ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट और फोरेंसिक रिपोर्ट के बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा।

खबरें और भी हैं...