बारिश में मकान गिरने से महिला की मौत:ललितपुर में 48 घंटे से हो रही बारिश में दो मंजिला मकान की छत गिरी, सो रही महिला की मलबे में दबकर मौत

ललितपुर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लगातार हो रही बारिश में दो मंजिलों मकान की छत गिरी। - Dainik Bhaskar
लगातार हो रही बारिश में दो मंजिलों मकान की छत गिरी।

ललितपुर में 48 घंटे से हो रही बारिश दो मंजिला मकान ध्वस्त हो गया। मकान की छत गिरने से कमरे में सो रही महिला की मलबे से दबकर मौत हो गई। तेज आवास सुनकर पहली मंजिल के कमरे में सो रहा बेटा मां के कमरे की ओर दौड़ा।

कमरे में पहुंचने के बाद उसने देखा कि, मां मलबे में दबी थी। उसने मलबे के ढेर के नीचे दबी मां को बाहर निकाला लेकिन, तबतक बहुत देर हो चुकी थी। मां की मौत से परिवार में कोहराम मचा है। वहीं, घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटना जिले के पूरकलां थाने के अंतर्गत गांव बिरधा की है।

मां की मौत से परिजनों में मचा कोहराम।
मां की मौत से परिजनों में मचा कोहराम।

सोते समय गिरा मकान
ग्राम बिरधा निवासी प्रताप लोधी की पत्नी रामश्री लोधी (55) घर की दूसरी मंजिल पर बने कमरे में सो रही थी। इस बीच लगातार हो रही बारिश के चलते रात 2 बजे करीब मकान की छत अचानक नीचे आ गिरी। मकान की छत ढहने से पूरा मलबा रामश्री के ऊपर गिर पड़ा। वो मलबे में दब गई। इस बीच छत गिरने की तेज आवाज सुनकर दूसरे के कमरे में सो रहे बेटा सुदामा लोधी मां के कमरे की ओर दौड़ा। कमरे पहुंचने के बाद उसने मां को मलबे के नीचे से निकाला पर तब तक मां दम तोड़ चुकी थी। वो दूसरी मंजिल पर अकेली सो रही थी।

शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा
थानाध्यक्ष पूरकलां ने बताया कि, घटना की जानकारी मिली है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं, उपजिलाधिकारी तालबेहट ने शासन की ओर से पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता दिलाने का आश्वासन दिया है। बताते चलें कि, कस्बा जखौरा जल मग्न हो गया है। शहर के कई घरों में पानी भर गया है।

खबरें और भी हैं...