हसेरन के मुटेकापुरवा में दो दिवसीय मेला समाप्त:बागड़ वाले बाबा स्थान पर ग्रामीणों ने प्रसाद चढ़ाकर टेका मत्था, 6 से ज्यादा लोगों ने चढ़ाए झंडे

हसेरन15 दिन पहले

हसेरन क्षेत्र के मुटेकापुरवा गांव के बाहर हसेरन गढेकपुरवा रोड के खेतों में बनी मठिया पर लगे दो दिवसीय मेले का शनिवार को समापन हुआ। मेले में काफी संख्या में लोगों की भीड़ रही। गांव के बाहर बनी मठिया में जखई देवता, बागड़ वाले बाबा के लोगों ने दर्शन कर प्रसाद चढ़ाया। 6 से ज्यादा लोगों ने झंडा चढ़ाया।

गांव के बाहर खेतों में बनी मठिया जखई बाबा देवता महाराज, बागड़ वाले बाबा के स्थान पर लोगों ने श्रद्धा भाव से पहुंचकर दर्शन कर प्रसाद चढ़ाया। मठिया पर लोगों ने माथा टेका। गांव के लोगों ने ही इस मेले की शुरुआत की थी। गांव के लोग बाबूराम , सोबरन लाल , हरदत्त , गोरेलाल , भगवत दयाल, उदयवीर सहित लोगों ने मेले की देखरेख की। काफी संख्या में लोग मेला देखने पहुंचे थे।

बनगबा ग्राम पंचायत मुटेकपुरवा गांव के पूर्व प्रधान राजेश शाक्य ने बताया कि ब्रह्मदेव के स्थान पर करीब 25 वर्षों से मेला लगता आ रहा है। कोरोना संक्रमण काल के दौरान मेला नहीं लगा था। इस वर्ष मेले का आयोजन किया गया। गांव के लोगों ने ही मेले की देखरेख की। आसपास क्षेत्र के कई लोग मेले में उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...