कन्नौज...कान्हा गौशाला में गाय की मौत:ग्रामीण बोले- ये कोई नई बात नहीं, यहां तो अक्सर होती एक-दो मौत, कई बीमार भी हैं

कन्नौज7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ठंड में प्रसव के दौरान एक गाय की दर्द से तड़प कर मौत हो गई। - Dainik Bhaskar
ठंड में प्रसव के दौरान एक गाय की दर्द से तड़प कर मौत हो गई।

कन्नौज में अफसरों की लापरवाही गौवंशों के लिये मौत का सबब बनती जा रही है। यहां की गौशालाओं का हाल यह है की देखरेख के अभाव में लगातार गायें मर रही हैं, लेकिन किसी जिम्मेदार को फिक्र नही हैं। इस लापरवाही के चलते कन्नौज में अब गौवंश आश्रय स्थल गायों के कब्रिस्तान बनते जा रहे हैं।

कान्हा गौशाला में देखरेख के अभाव में यहां गायें बेमौत मर रही हैं। ठंड में प्रसव के दौरान एक गाय की दर्द से तड़प कर मौत हो गई। देर रात मरी इस गाय के पूरा प्रसव भी नही हो पाया। सबसे ज्यादा दुखदायी बात यह की न तो गौशाला संचालक ने गाय का सुरक्षित प्रसव कराने का कोई इन्तजाम कराया और न मौत के बाद कोई अफसर मौके पर पहुंचा। गायों की इस बदहाली से गौ भक्तों में आक्रोश है। वहीं आलाधिकारी चुप्पी साधे हुए हैं।

गंदा पानी पीने को मजबूर हैं गौंवंश।
गंदा पानी पीने को मजबूर हैं गौंवंश।

गायों को नहीं मिल रहा चारा

आदर्श नगर पंचायत सिकन्दरपुर की कान्हा गौशाला, यहां सरकार ने गौवंशों की सुरक्षा के लिए टीनशेड व बाउंड्रीवाल बनवायी है। एक सैकड़ा से ज्यादा गायें इस गौशाला में मौजूद है। शुरुआत में यहां डीएम रूटीन से निरीक्षण करने आते थे। बड़े अफसर की निगरानी के चलते गायों की सुरक्षा व स्वास्थ्य का भी खास ख्याल रखा जाता था। पशु चिकित्सक भी यहां अपने समय से गायों का स्वास्थ्य परीक्षण करने आते थे। चारे की भी यहां कोई कमी नहीं रहती थी, लेकिन जब से अफसरों ने इस गौशाला से मुंह मोड़ लिया है। चारा न मिलने से गाय कमजोर और बीमार हो गई हैं।

गंदगी के चलते गौशाला में बीमारियां फैल रही हैं।
गंदगी के चलते गौशाला में बीमारियां फैल रही हैं।

अधिकारियों पर हो कार्रवाई

गौभक्त रविन्द्र कुमार का कहना है कि अधिकारी खुद सरकार को बदनाम करने के लिए लापरवाही कर रहे है जो इस मामले के जिम्मेदार है उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही होनी चाहिए क्योंकि अक्सर गौशाला में गाय की मौत होने के बाद उनको गौशाला में ही दफना दिया जाता है। ऐसे कई मामले पहले भी सामने आ चुके है। उन्होंने इस मामले को लेकर जिम्मेदारी अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।