कन्नौज में 9 फर्जी शिक्षक हुए बर्खास्त, होगी एफआईआर:69 हजार शिक्षक भर्ती में 22 लोगों के दस्तावेज पाए गए भर्ती, तीन बार भेजी गई नोटिस का नहीं दिया जवाब

कन्नौज6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
कन्नौज में 9 फर्जी शिक्षकों के खिलाफ की गई बर्खास्तगी की कार्रवाई - Dainik Bhaskar
कन्नौज में 9 फर्जी शिक्षकों के खिलाफ की गई बर्खास्तगी की कार्रवाई

कन्नौज में फर्जी दस्तावेज पर नौकरी करने वाले 9 शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया है। इन सभी शिक्षकों की 69 हजार सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया के तहत नियुक्ति की गई थी। जिसमें कन्नौज में 1450 शिक्षकों की भर्ती हुई थी। दस्तावेजों की जांच के दौरान जिले में 22 शिक्षकों के दस्तावेज फर्जी पाए गए थे। इन सभी शिक्षकों को नोटिस देकर कार्रवाई की गई। जिसमें 9 शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया है। अब इनके खिलाफ केस दर्ज किया जाएगा।

सभी को 3-3 बार भेजा गया था नोटिस

इस मामले में बेसिक शिक्षा अधिकारी संगीता सिंह ने बताया कि शिक्षा विभाग की ओर से इन सभी शिक्षकों को तीन-तीन बार नोटिस भेजकर जवाब मांगा गया। इनमें से किसी ने कोई जवाब नही दिया और विभाग को लगातार गुमराह किया जा रहा था। जिसके चलते 9 शिक्षकों को बर्खास्त कर दिया गया है। सभी बर्खास्त शिक्षकों को वेतन रिकवरी का भी नोटिस भेजा गया है।

आरोपियों को भेजा गया वेतन रिकवरी का नोटिस

तीन बार नोटिस भेजने के बाद भी किसी शिक्षक ने न तो नोटिस का जवाब ही दिया और न ही अपना पक्ष रखा‚ जिसके बाद विभाग ने कार्रवाई करते हुए 9 शिक्षकों को बर्खास्त कर वेतन रिकवरी के नोटिस सभी शिक्षकों को भेजा गया है। इनमें शिक्षा विभाग की ओर से कानपुर देहात निवासी विनोद कुमार, इटावा निवासी सत्यम, फिरोजाबाद निवासी प्रियंका यादव, शिकोहाबाद के बृजेश कुमार, नीरज यादव, दिग्विजय सिंह, राहुल यादव, नीलम यादव, दिव्या की बर्खास्तगी की गई है। इसके साथ ही इन सभी शिक्षकों पर संबंधित थानों में रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई के भी निर्देश दिए गए है। जो अन्य 13 लोगों के खिलाफ भी जांच चल रही है उनके खिलाफ भी जल्द कार्रवाई की जाएगी।