कन्नौज में किशोरी की आंख से निकल रहा कंकड़:15 साल की लड़की की आंख से निकल रहे कंकड़, डॉक्टर भी हैरान; 2 महीने से परेशान हैं परिजन

कन्नौज4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
किशोरी की आंख से निकल रहा कंकड� - Dainik Bhaskar
किशोरी की आंख से निकल रहा कंकड�

कन्नौज जिले के गुरसहायगंज कोतवाली क्षेत्र के गढ़िया वलीदादपुर गांव में एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है। गांव की रहने वाली एक किशोरी ने दावा किया है कि उसकी एक आंख से पत्थर के टुकड़े निकलते हैं, जिससे उसकी आंख लाल रहती है। पिता का कहना है कि 17 जुलाई से बेटी को ऐसा हो रहा है। जब चिकित्सकों को दिखाया गया तो उन्होंने बेटी को पागल घोषित कर दिया।

पत्थर निकलने से लाल रहती है आंख

बता दें कि गुरसहायगंज कोतवाली क्षेत्र के गढ़िया वलीदादपुर गांव की रहने वाली 15 वर्षीय चांदनी का दावा है कि उसकी एक आंख से पत्थर के टुकड़े निकलते हैं, जिस कारण आंख लाल रहती है। उसे काफी दर्द भी होता है। बेटी की इस समस्या से उसके माता-पिता भी काफी परेशान हैं। चांदनी के पिता मुश्ताक का कहना है कि 17 जुलाई से उनकी बेटी के साथ ऐसा हो रहा है। बाईं आंख से प्रति दिन पत्थर निकलते हैं।

पिता ने कई जगहों पर कराया इलाज

पिता मुश्ताक ने बताया कि उन्होंने बेटी चांदनी की आंख का इलाज सीतापुर, रुहेलखण्ड और बरेली समेत कई जगहों पर कराया, लेकिन कोई लाभ नहीं मिला। इतना ही नहीं डॉक्टरों ने चांदनी को पागल तक घोषित कर दिया। वहीं कुछ डॉक्टर इस बीमारी से असमंजस में हैं कि आखिर यह कैसी बीमारी है।

डॉक्टरों ने लड़की को पागल बताया

किशोरी चांदनी ने बताया कि 17 जुलाई से उसकी बाईं आंख से ये कंकड़ निकल रहे हैं। उसके परिजनों ने बरेली में डॉक्टर को दिखाया था। वहां डॉक्टर ने उसे पागल घोषित कर दिया और कहा कि लड़की खुद ही अपनी आंख में पत्थर डाल लेती है। सीतापुर में जब दिखाया तो वहां भी डॉक्टर ने बताया कि लड़की पागल है। अपने आप ही पत्थर रख लेती है। वहां डॉक्टर ने पागलों वाली दवा दी थी। उसने वो दवा नहीं खाई, क्योंकि वह पागल नहीं है।

आंख से पत्थर निकलना संभव नहीं

चांदनी ने बताया कि जब पलक के पास पत्थर आ जाते हैं तभी दर्द होता है। ये पत्थर अंदर से आते हैं, ये मालूम नहीं चलता है। करीब 15 से 20 मिनट तक दर्द बना रहता है। चांदनी ने बताया कि पहले शुरू में तो दो या तीन ही निकलते थे, लेकिन अब दो-तीन दिन से करीब 15 पत्थर निकलते हैं। ये पत्थर कभी भी निकल आते हैं। उसने बताया कि पत्थर दिन में ही निकलते हैं, रात में नहीं। वहीं नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. एपी सिंह का कहना है कि मेडिकल साइंस में आंख से पत्थर निकलना संभव ही नहीं है। उन्होंने किशोरी के परिजनों के दावे को खारिज कर दिया।

खबरें और भी हैं...