कन्नौज जेल में बंद किशोर के आत्महत्या का मामला:रेप पीड़िता ने युवक को जेल से बाहर निकलाने की कही बात, वायरल ऑडियो में बताया बेकसूर

कन्नौज15 दिन पहले

कन्नौज। जिले में जेल के अंदर दुष्कर्म के आरोपी की मौत के मामले एक और चौंकाने वाला सच सामने आया है। आरोपी मृतक के दोस्त और दुष्कर्म पीड़िता के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल होने से एक बार फिर इस मामले में नया मोड़ आ गया है। जिससे इलाके में हड़कंप मचा हुआ है।

जेल से बाहर निकालने की बात
ऑडियो में पीड़िता रोते हुए आरोपी को जेल से बाहर निकालने की बात कह रही है। यह ऑडियो किशोर के जेल जाने के दो दिन बाद का है। पीड़िता कह रही है कि गांव के ही कुछ लोगों ने साजिश रचकर मुकदमा दर्ज करा दिया था और आरोपी को बेकसूर बता रही है। जब दोस्त उसकी मौत की खबर बताता है तो पीड़िता को यकीन नहीं होता है और पीड़िता इस बात से रो पड़ती है। इस सचाई ने एक बार फिर इस मामले में कुछ सवालों को खड़ा कर दिया है और मृतक आरोपी को इस साजिश का शिकार होना पड़ा। आखिर सच क्या है यह तो जांच के बाद ही सामने आयेगा। लेकिन पीड़िता के इस ऑडियो ने मामले को नया मोड़ जरूर दे दिया है। तो आइये देखते हैं कन्नौज से दैनिक भास्कर की यह खास रिपोर्ट। एसपी प्रशांत वर्मा ने बताया कि आरोपी को पीड़िता के कोर्ट में दर्ज हुए बयानों के आधार पर जेल भेजा गया था। वायरल ऑडियो की उन्हें जानकारी नहीं हुई है।

दुष्कर्म के आरोपी काट रहे सजा
कन्नौज अनौगी जिला जेल में दुष्कर्म के आरोपी में सजा काट रहे इंदरगढ़ थाना क्षेत्र के भोरामऊ गांव निवासी 21 वर्षीय अभिनव प्रताप सिंह बैस उर्फ प्रखर ने एक मई को आत्महत्या कर ली थी। जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी गयी थी। लेकिन परिजनों ने हंगामा करते हुए इस मामले में जेल प्रशासन पर ही हत्या करने का आरोप लगाया था। जबकि परिजनों ने यह भी बताया था कि उसका पुत्र नाबालिग था। जिसको बालिग दिखाकर जेल भेजा गया था। जिससे पुलिस पर भी यह आरोपी लगा था। इस मामले में अभी मजिस्ट्रेटी जांच चल ही रही थी। अब इस मामले में एक और नया मोड़ आ जाने से हड़कंप मचा हुआ है। ऑडियो में पीड़िता आरोपी को बेकसूर बता रही है और आरोपी की मौत की उसको जानकारी तक नहीं हुई। जब पीड़िता ने मृतक के दोस्त से फोन पर बात की तो पीड़िता को जानकारी हुई।

मौत की खबर सनकर दुखी हुई पीड़िता
जिसके बाद पीड़िता आरोपी की मौत की खबर सुनकर दुखी हुई। मृतक के दोस्त और पीड़िता के बीच हुई बात का ऑडियो अब तेजी से वायरल हो रहा है‚ जो एक बार पुलिस की कार्रवाई पर फिर सवाल उठा रहा है। इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा का कहना है कि आरोपी को पीड़िता के कोर्ट में दर्ज हुए बयानों के आधार पर जेल भेजा गया था। जिसमें पूरी कार्रवाई कोर्ट में दर्ज बयानों के आधार पर की गयी है।

खबरें और भी हैं...