कन्नौज में अग्निपथ योजना के विरोध में उतरा भाकियू:विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों को पुलिस ने रोका‚मौके पर पहुंचे आलाधिकारियों ने समझाकर शांत कराया

कन्नौज3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कन्नौज जिले में अग्निपथ योजना के विरोध को लेकर शुक्रवार को भारतीय किसान यूनियन के नेताओं ने विरोध प्रदर्शन किया। इस बात की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस प्रशासन के साथ पहुंचे अपर जिलाधिकारी ने लोगों को समझाया। जिसके बाद भाकियू नेताओं ने एडीएम को अपनी मांगों को लेकर एक ज्ञापन सौंपा। बताया जाता है कि किसान नेता यह विरोध प्रदर्शन गुरसहायगंज क्षेत्र से कन्नौज मुख्यालय पर करने जा रहे थे। जिसकी सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस फोर्स ने उनको रोक दिया जिसके बाद आलाधिकारी मौके पर पहुंच गये।

आपको बताते चलें कि आज शुक्रवार को कन्नौज जिले में भारतीय किसान यूनियन के नेता व कार्यकर्ता जिले के मुख्यालय पर अग्निपथ योजना को लेकर जोरदार प्रदर्शन करने की रणनीति तैयार कर रहे थे। जिसके बाद उन्होंने योजना का विरोध जैसे ही गुरसहायगंज क्षेत्र से शुरू किया इस बात की सूचपा पुलिस प्रशासन को मिली। आनन–फानन भारी मात्रा में पुलिस फोर्स ने मौके पर पहुंचकर अग्निपथ योजना का विरोध कर रहे भारतीय किसान यूनियन के नेताओं को वहीं रोक दिया।

रोके जाने पर किसानों ने जिला कार्यालय के बाहर किया जोरदार प्रदर्शन

रोके जाने से आक्रोशित किसानों ने भाकियू जिला कार्यालय के बाहर जोरदार प्रदर्शन करने लगे। इस बात की जानकारी होते ही मौके पर पहुंचे एडीएम गजेंद्र सिंह ने प्रदर्शनकारियों को समझाते हुए आनन–फानन में भाकियू जिलाध्यक्ष से ज्ञापन लिया है। इस मौके पर अपर जिला अधिकारी गजेंद्र सिंह ने बताया कि अग्निपथ योजना विरोध प्रदर्शन के रूप में आज भारतीय किसान यूनियन के लोगों द्वारा शांतिपूर्ण तरीके से ज्ञापन दिया गया है।

7 सूत्रीय ज्ञापन पत्र सौंपा

जो भी इनकी मांग है उसको शासन स्तर पर ऊपर भेजा जाएगा। 7 बिंदुओं का ज्ञापन है जिस पर कार्रवाई अपेक्षित होगी। ज्ञापन देने की प्रक्रिया इसी प्रकार से होती है। जिसको ऊपर तक पहुंचाया जाता है। चाहें कहीं भी हो मूल रूप से ज्ञापन प्राप्त करना और ज्ञापन पहुंचाना होता है और सबसे अच्छी बात यह कि लोकतांत्रिक तरीके से सभी का सहयोग रहा है और ज्ञापन सौंपा गया है। कोई स्थलीय नहीं है सभी को समझा दिया गया है जो भी शासनादेश प्राप्त होंगे उसको बता दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...