रक्षाबंधन को लेकर महिलाओं में दिख रहा उत्साह:नगर में सजी राखी की दुकानें बनी आकर्षण का केंद्र, सुबह से ही उमड़ी महिलाओं की भीड़

मैथा6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगर व कस्बों में सजी राखियों की दुकान - Dainik Bhaskar
नगर व कस्बों में सजी राखियों की दुकान

भाई बहन के अटूट प्रेम के त्योहार रक्षाबंधन को लेकर महिलाओं के बीच खासा उत्साह देखने को मिला। सुबह से ही नगर में राखी की दुकानों पर महिलाओं ने पहुंचकर अपने भाइयों के लिए राखी खरीदी। कस्बो में दुकाने दर्जनों की तदाद में रंग बिरंगी राखियों से सजी है। कोरोना महामारी के कारण पिछले दो सालों से रक्षाबंधन पर कई पाबंदियां लगी थी लेकिन इस साल राखी के त्योहार को लेकर उत्साह पहले से दो गुना बढ़ चुका है।

भाई-बहन के अटूट रिश्ते का त्योहार रक्षाबंधन को लेकर क्षेत्र के बाजारों में बुधवार को खासी रौनक रही। रंग-बिरंगे व तरह-तरह के फैशनेबल राखियों से सजी दुकानें बाजारों में छटा बिखेर रही है। कस्बा शिवली बाघपुर मैथा बैरी अन्य बाजारों की अधिकांश दुकानें राखियों से सजी मिली। सड़क के किनारे भी दुकानदार स्टॉल लगाकर राखी बेचते नजर आए।

पिछले सालों के मुकाबले इस साल राखी हुई महंगी
भाइयों के लिए मनपसंद राखी खरीदने के लिए दुकानों पर बहनों की अच्छी खासी भीड़ देखी गई। कस्बा शिवली निवासी आदिल सुनील नीरज पंकज ने बताया कि पिछले सालों की तुलना में इस बार राखियों के दामों में कुछ इजाफा जरुर हुआ है लेकिन फिर भी महिलाओं की भीड़ दुकानों पर आ रही है। खासकर छोटी-छोटी बच्चियों में खासा उत्साह देखा जा रहा है।

10 रुपये से लेकर 300 रुपये की राखी स्टॉलों पर सजी
​​​​​​​मैथा निवासी आशीष ने बताया कि उनके स्टॉल पर 10 रुपये से लेकर 300 रुपये तक की राखी उपलब्ध है। पूर्ण रेशम के धागों से निर्मित राखी भी हमारे यहा मौजूद है। इनकी भी मांग ग्राहकों में है। वही मिठाइयों की दुकानों पर भी खासी चहल-पहल देखी गई। मिठाई दुकान संचालक अनुराग ने बताया कि इस बार मिठाई की बिक्री खूब हो रही है ।

खबरें और भी हैं...