छोटे भाई के हत्यारे को आजीवन कारावास:बड़े भाई ने 6 साल पहले की थी हत्या, पांच हजार रुपए का जुर्माना

कानपुर देहात2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कानपुर देहात के अकबरपुर में बड़े भाई ने छोटे भाई की 6 साल पहले हत्या कर दी थी। जिसको लेकर पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज किया था। जिसकी सुनवाई कानपुर देहात के जिला एवं सत्र न्यायाधीश पंचम में चल रही थी। सुनवाई पूरी होने के बाद अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश पंचम ने बड़े भाई को हत्या का दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाते हुए अर्थदंड भी लगाया है।

2 अगस्त 2016 को की गई थी हत्या

कानपुर देहात के थाना अकबरपुर के बाढ़ापुर गांव निवासी राम किशन की 2 अगस्त 2016 को धारदार हथियार से हमला कर हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद मृतक के बेटे रवि कुमार ने ताऊ गंगाराम, ताई रानी, उनके बेटे रिंकू व बेटी रीना के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराई थी।

बचाव पक्ष से पेश किए गए थे 2 गवाह

वहीं पुलिस ने मामले की जांच पूरी करते हुए आरोपी गंगाराम के खिलाफ कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किया था। जिसके बाद अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश पंचम में अभियोजन ने 10 गवाह पेश किए थे। वहीं बचाव पक्ष ने भी साक्ष्य में 2 गवाह कोर्ट में पेश किए। पूरे मामले की सुनवाई गुरुवार को कोर्ट में पूरी हो गई जिसके बाद कोर्ट ने आरोपी को भाई की हत्या का आरोपी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई और आर्थिक दंड भी लगाया है।

क्या बोले विशेष लोक अभियोजक

पत्रकारों को जानकारी देते हुए विशेष लोक अभियोजक विकास सिंह ने बताया कि कोर्ट ने गंगाराम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई हैं और साथ ही पांच हजार रुपये अर्थदंड भी लगाया है। अर्थदंड अदा न करने पर आरोपी को तीन माह का अतिरिक्त कारावास काटना होगा।

खबरें और भी हैं...