कानपुर देहात में शुद्ध पानी के लिए हुई बैठक:डीएम बोले- कामों का डीपीआर हो तैयार, 31 मार्च तक सारे काम हों पूरे

कानपुर देहात8 महीने पहले

कानपुर देहात में भारत सरकार द्वारा संचालित कार्यक्रम ‘‘जल जीवन मिशन‘‘ के अन्तर्गत राज्य पेयजल एवं स्वच्छता मिशन को लेकर जिला पेयजल स्वच्छता मिशन की बैठक कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित हुई। बैठक में जिलाधिकारी जितेन्द्र प्रताप सिंह ने ‘‘जल जीवन मिशन‘‘के तहत किए जा रहे कार्यों की समीक्षा बैठक की। अधिकारियों को कड़े दिशा निर्देश देते हुए कहा कि जल जीवन मिशन के तहत जो भी जिम्मेदारी आप सब को दिया गया है उसको निभाए और किसी भी प्रकार की लापरवाही ना की जाए।

शेष बचे कार्यों का तैयार कर लिया जाएगा डीपीआर

‘‘जल जीवन मिशन‘‘ के तहत चल रही समीक्षा बैठक में जिलाधिकारी को जिला जल निगम अधिकारी एम.के.सिंह ने बताया कि जनपद कानपुर देहात के अन्तर्गत कुल 922 राजस्व ग्राम स्थापित है। जिनमें से 96 राजस्व ग्रामों को जल निगम द्वारा पेयजल योजनाओं से अच्छादित कर दिया गया है। जिसमें 826 राजस्व ग्रामों में से फेस-2 में सम्मिलित कर लिया गया है। शेष 438 राजस्व ग्रामों को फेस-3 में सम्मिलित किया जाना है। उन्होंने बताया कि इस योजना हेतु इण्डियन हूयम पाइप को 175 का लक्ष्य दिया गया है। इसी प्रकार जी.बी.पी.आर.को 323, एस.सी.एल. को 300 का लक्ष्य दिया गया है। जिस पर जी.बी.पी.आर.एवं एस.सी.एल.के द्वारा बताया गया कि 10-10 ग्रामों की डीपीआर तैयार कर सोमवार को उपलब्ध करा दी जायेगी। शेष बचे ग्रामों की डीपीआर शीघ्र तैयार कर ली जायेगी।

योजना में ना बरतें लापरवाही

जिलाधिकारी ने जी.बी.पी.आर.कम्पनी के अनिल मिश्रा को निर्देशित करते हुए कहा कि चार अप्रैल तक जो भी काम इसके सम्बन्ध में पूरा करेंगे उसका सम्पूर्ण विवरण उपलब्ध करायें। इसी तरह उन्होंने एस.सी.एल.कम्पनी के प्रमुख को निर्देशित करते हुए कहा कि 31 मार्च तक जो भी कार्य इन्होंने पूरा नही किये है उसके लिए इनका उत्तरदायित्व निर्धारित किया जाये। शासन के निर्देशानुसार उन पर पेनाल्टी तय की जाये।

जिलाधिकारी ने कहा कि सरकार का यह महत्वाकांक्षी मिशन है। इनमें किसी प्रकार की कोई लापरवाही न हो। हर सप्ताह अपने कार्यों के प्रगति की जानकारी कार्यदायी संस्थाओं के प्रमुख अवश्य उपलब्ध कराये। साथ ही साथ इस मिशन को पूरा करने में जो भी समस्याऐं आ रही है उनके बारे में भी अवगत कराये। साथ ही जिलाधिकारी ने कहा कि इस योजना के महत्व और मिशन के सम्बन्ध में ग्रामवासियों को अवश्य बताये। जिससे इस मिशन की सफलता अवश्य सुनिश्चित हो सके।

खबरें और भी हैं...