कानपुर देहात का लुटेरा दुल्हा:पहले लड़की को प्यार में फंसाया, फिर ढाई लाख रुपए और जेवर लेकर हुआ फरार, दुल्हन करती रही इंतजार

कानपुर देहातएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शादी से पहले दूल्हा फरार। - Dainik Bhaskar
शादी से पहले दूल्हा फरार।

कानपुर देहात के चकेरी में शादी वाले दिन दुल्हन बारात का इंतजार करती रही और आरोपी दूल्हा जेवर और ढाई लाख नगदी लेकर फरार हो गया। रामादेवी स्थित कोचिंग संचालक ने अपनी ही कोचिंग में पढ़ने वाली 24 साल की छात्रा को शादी का झांसा देकर लूट लिया। पीड़िता ने आरोपी के खिलाफ चकेरी थाने में मामला दर्ज कराया है।

आरोपी के यहां कोचिंग पढ़ती थी

चकेरी निवासी युवती ने बताया कि करीब दो साल पहले वो रामादेवी स्थित छत्रपाल सिंह उर्फ प्रकाश की कोचिंग में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने जाती थी। तभी कोचिंग संचालक से उसकी दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे उनकी फोन पर बातचीत होने लगी और दोस्ती प्यार में बदल गया।

घर वालों को शादी के लिए मनाया

आरोपित कोचिंग संचालक ने उससे शादी की बात की। पीड़िता ने अपने परिजनों से बात कर उन्हें राजी कर लिया। कुछ माह पहले 13 दिसंबर को उनकी शादी तय हुई। पीड़िता ने बताया कि आरोपित ने उन्हें साथ मिलकर गेस्ट हाउस और खाने-पीने का खर्च उठाने को कहा था। गेस्ट हाउस बुक करने के नाम पर दो लाख रुपये ले लिये। युवती के परिजनों ने शादी के कार्ड भी छपवाकर बांट दिये।

जेवरात देखने को अपने पास रख लिए

कोचिंग संचालक ने पीड़िता से शादी के जेवरात देखने के लिए मंगाकर अपने पास रख लिए। इसके बाद छत्रपाल ने सोमवार की सुबह पीड़िता को फोन कर किसी काम को रुपये मंगाए। पीड़िता का भाई करीब 50 हजार देने पहुंचा। रुपये लेने के बाद आरोपित ने भाई से शादी न करने की बात बोली। विरोध करने पर आरोपित ने भाई की कमर में रिवॉल्वर लगाकर जान से मारने की धमकी दी।

पैसे लेने के बाद शादी से किया मना

किसी तरह भाई ने अपनी जान बचाकर घर पहुंचकर घटना की जानकारी दी। इसके बाद उन्होंने आरोपित को फोन कर बात की तो वो शादी करने से मना करने लगा। फिर परिजनों ने गेस्ट हाउस जाकर पता किया तो वहां किसी दूसरे की शादी थी। चकेरी इंस्पेक्टर मधुर मिश्रा ने बताया कि पीड़िता की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया है।

खबरें और भी हैं...