फर्रुखाबाद में सड़कों की बदहाली से लोग बेहाल:गड्ढों और पानी से भरी सड़कें कम कर देती हैं वाहनों की रफ्तार, आधे घंटे का सफर 1 घंटे में होता है पूरा

फर्रुखाबाद2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गड्ढों में फंस जाते हैं ई-रिक्शा। - Dainik Bhaskar
गड्ढों में फंस जाते हैं ई-रिक्शा।

यूपी में बीजेपी की सरकार बनते ही योगी सरकार ने कहा था कि प्रदेश की सारी सड़कों को गड्ढों मुक्त किया जाएगा। लेकिन सरकार का ये दावा शायद केवल कागजों तक ही सिमट गया है। फर्रुखाबाद में नवाबगंज से अचरा जाने वाली सड़क का हाल बदहाल है।

हादसों को दे रहे हैं दावत

बड़े-बड़े गड्डे हादसों को दावत दे रहे हैं। खराब सड़क होने के कारण लोगों का समय भी खूब बर्बाद होता है। सरकार के लाख दावों के बावजूद भी सड़कों की बदहाली दूर होने का नाम नहीं ले रही है।

खराब सड़कें हादसों को दे रही दावत।
खराब सड़कें हादसों को दे रही दावत।

कई ई-रिक्शा हो चुके हैं खराब

ई-रिक्शा चालक रंजीत ने बताया कि काफी समय से इस सड़क की हालत खराब है। ई-रिक्शा में बैठी सवारियों को अचरा से नवाबगंज पहुंचाने में तकरीबन एक घंटे का समय लगता है। कई बार तो गड्ढों में जाने की वजह से ई-रिक्शा ही खराब हो जाता है।

कई बार की गई है शिकायत

स्थानीय लोगों ने बताया कि सड़क की मरम्मत करवाने के लिए कई बार जनप्रतिनिधियों से कहा गया है। वो लोग हमेशा यही कहते हैं कि प्रस्ताव पास हो चुका है। शायद उन लोगों का प्रस्ताव कागजों में ही पास हो जाता है और कागजों में ही गड्ढें भर दिए जाते हैं। अभी तक उनके प्रस्ताव का असर सड़कों पर तो नहीं दिखा है।

खबरें और भी हैं...