कानपुर देहात में रेलवे फैक्ट्री में धमका:भट्‌ठी फटने से मजदूर की मौत, चार घायल, परिजनों ने किया हंगामा

कानपुर देहात3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कानपुर देहात के थाना अकबरपुर के रनियां में रेलवे उपकरण बनाने वाली फ्रंटियर फैक्ट्री में शनिवार रात लोहा गलाते समय एक भट्ठी फट गई। हादसे में मजदूर राम आसरे पाल (60) की मौत हो गई, जबकि 4 अन्य बुरी तरह झुलस गए। परिजनों ने फैक्ट्री प्रबंधन के पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए हंगामा काटा। वहीं, मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों को समझा-बुझाकर शांत कराया है।

फैक्ट्री में गलाया जा रहा था लोहा

हादसा अकबरपुर के रनिया में रेलवे उपकरण बनाने वाली फैक्ट्री में हुआ। यहां इंडक्शन फर्नेस भट्ठी में काम हो रहा था और लोहे के कबाड़ को गलाया जा रहा था। फैक्ट्री के अंदर काम कर रहे रामआसरे पाल ने सरिया की मदद से कबाड़ को भट्ठी में डालकर ढक्कन बंद कर दिया। इसके बाद वह पास में ही खड़े हो। कुछ देर बाद तेज धमाके के साथ भट्ठी फट गई। पिघले लोहे की चपेट में आकर राम आसरे की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं, दीपक मिश्र, धनंजय, रामवीर सिंह और विलियम झुलस गए। मैनेजर ने तत्काल घटना की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने हादसे में रामआसरे के शव को कब्जे में ले लिया और घायलों को पास के अस्पताल में ले गए। डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद सभी को कानपुर रेफर कर दिया।

हादसे में मजदूर की मौत के बाद रेलवे फैक्ट्री के बाहर हंगामा करते परिजन।
हादसे में मजदूर की मौत के बाद रेलवे फैक्ट्री के बाहर हंगामा करते परिजन।

परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

उधर, मौत की जानकारी होते ही राम आसरे के परिजन फैक्ट्री गेट पर पहुंचे और फैक्ट्री प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाकर हंगामा करने लगे। हंगामे की जानकारी मिलते ही मौके पर एसडीएम वागीश शुक्ला, थाना प्रभारी अकबरपुर विनोद पांडेय पुलिस बल संग पहुंच गए। अधिकारियों ने समझा-बुझाकर शांत कराया और जांच कर कार्रवाई की बात कही।

रेलवे फैक्ट्री में हादसे के बाद जुटी भीड़।
रेलवे फैक्ट्री में हादसे के बाद जुटी भीड़।

एसडीएम बोले- दिलाया जाएगा मुआवजा

एसडीएम वागीश शुक्ला ने बताया कि परिजनों से बातचीत कर ली गई है। घटना की जांच कराई जाएगी। जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई होगी। साथ ही साथ आर्थिक मदद दिलाने का प्रयास किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...