सिकन्दरा में पैसे ना देने पर भड़की स्टाफ नर्स; VIDEO:पत्नी का ऑपरेशन करने के लिए पति से मांगे 4 हजार रुपये, पीड़ित ने राज्यमंत्री से की लिखित शिकायत

सिकन्दरा4 महीने पहले
पीड़ित के परिजनों को फटकार लगाती हुई स्टाफ नर्स पूनम पटेल

सिकन्दरा सीएचसी में पैसे की डिमांड पूरी ना करने पर स्टाफ नर्स ने तीमारदारों को जमकर फटकार लगा दी। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। दरअसल, एक युवक प्रसव कराने के लिए अपनी पत्नी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचा। जहां स्टाफ नर्स ने ऑपरेशन करने के लिए युवक से 4 हजार रुपये की मांग की। युवक ने जैसे-तैसे 2 हजार रुपये दे दिए लेकिन जब वह बाकी के पैसे नहीं दे पाया तो स्टाफ नर्स युवक पर भड़क गई और उसे डांटने लगी।

मामला सिकन्दरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का बताया जा रहा है। जहां से एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में स्टाफ नर्स पूनम पटेल के द्वारा प्रसव के लिए आई महिला के परिजनों को फटकार लगाते हुए देखा जा रहा है। राज्यमंत्री क्षेत्रीय विधायक अजीत पाल के जनता दरबार में पहुंचकर पीड़ित युवक देवेंद्र सिंह निवासी बुधेला डेरा ने लिखित शिकायत पत्र देते हुए न्याय की गुहार लगाई है।

पीड़ित देवेंद्र सिंह
पीड़ित देवेंद्र सिंह

ऑपरेशन करने के स्टाफ नर्स ने मांगे थे रुपये
पीड़ित देवेंद्र ने बताया कि उसकी पत्नी पूनम देवी गर्भवती थी। उसे प्रसव पीड़ा उत्पन्न हुई, प्रसव कराने के लिए वह अपनी पत्नी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकंदरा लेकर पहुंचा। जहां मौजूद स्टाफ नर्स पूनम पटेल के द्वारा प्रसव कराने के लिए ₹4000 की मांग की गई और ना देने पर गंभीर बताकर जिला अस्पताल रेफर करने की धमकी भी दी।

पूरे रुपये ना देने पर भड़की स्टाफ नर्स
देवेंद्र ने 2 हजार रुपये दे दिए और देवेंद्र की पत्नी का सुरक्षित प्रसव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मे हो गया। स्टाफ नर्स के द्वारा 2 हजार रुपये और मांगने पर वह पैसे देने में असफल रहा। जिस पर स्टाफ नर्स परिजनों को फटकार लगाने लगी। इस दौरान अज्ञात युवक द्वारा स्टाफ नर्स का वीडियो बना लिया गया और उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

स्टाफ नर्स पूनम पटेल
स्टाफ नर्स पूनम पटेल

राज्य मंत्री ने सीएमओ से की शिकायत
जब राज्य मंत्री के द्वारा सीएचसी प्रभारी से इस मामले में बात की गई तो प्रभारी डॉ पवन के द्वारा बताया गया कि पीड़ित के द्वारा उनसे इस मामले में कोई शिकायत नहीं की गई है। जिसके बाद राज्य मंत्री अजीत पाल ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को फोन कर मामले में संज्ञान लेने के आदेश दिया गया।

पहले भी स्टाफ नर्स का किया गया है ट्रांसफर
बता दें कि ऐसे ही एक मामले में स्टाफ नर्स पूनम पटेल का सिकन्दरा सीएचसी से स्थानांतरण कर रसूलाबाद भेंज दिया गया था लेकिन कुछ ही समय बाद पूनम पटेल सांठ- गांठ करके दुबारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकंदरा वापस आ गई थी। कहीं ना कहीं स्वास्थ्य महकमा इन सब घटनाओं के लिए जिम्मेदार है। ।

खबरें और भी हैं...