घाटमपुर में वकील और लेखपाल के बीच हुई झड़प:तहसीलदार कोर्ट में तालाबंदी कर धरने पर बैठे लेखपाल, वकीलों ने डीएम से की शिकायत

घाटमपुर17 दिन पहले

घाटमपुर तहसील के बाहर एक दुकान पर वकील व लेखपाल के बीच झड़प हो गई। शनिवार दोपहर तहसीलदार कोर्ट समेत अन्य ऑफिसों में ताला डालकर लेखपाल धरने में बैठ गए। लेखपालों ने वकीलों दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। तहसील परिसर पहुंचे वकीलों ने तहसील प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाए एसडीएम ने वकीलों को समझाकर मामला शांत कराया है।

घाटमपुर बार एसोसिएशन के महामंत्री शिव सिंह परमार ने कानपुर जिलाधिकारी को दिए गए शिकायत पत्र में बताया कि कोहरा, किराव गांव के लेखपाल विमल है। किरार गांव निवासी रामपाल ने पाका 11 का आवेदन किया था। जूनियर अधिवक्ता ने रिपोर्ट लगाने की बात पूछी, तो लेखपाल ने उन्हें तहसील के बाहर एक दुकान में बुलाया, जूनियर अधिवक्ता स्वाति यादव, धीरेंद्र यादव, शिवचंद यादव, वादकारी रामपाल के साथ वहां पहुंचे तो लेखपाल ने सात हजार रुपये की मांग की। पैसे देने से मना किया,तो वादकारी का आवेदन फार्म फाड़कर फेंक दिया। जिसके बाद दोनों के बीच हाथापाई हो गई। वकीलों ने घाटमपुर थाने में तहरीर दी है।

लेखपालों ने तहसीलदार कोर्ट समेत ऑफिसों में लगाया ताला
अधिवक्ताओं का आरोप है कि शनिवार दोपहर लेखपालों ने तहसील स्थित तहसीलदार कोर्ट समेत अन्य ऑफिसों में ताला लगा दिया। तारीख लेने पहुंचे वकील व लेखपालों के बीच झड़प हो गई। मामले में घाटमपुर एसडीएम आयुष चौधरी का कहना है, कि अधिवक्ता लेखपालों के साथ दुर्व्यवहार कर रहें है। लेखपालों ने कोर्ट में ताला नही लगाया,वकील कोर्ट में घुस रहे थे तो पेशकार ने ताला लगाया था।

खबरें और भी हैं...