पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Uttar pradesh
  • Kanpur
  • 17 Killed In A Collision Between A Bus And A Tempo On The Highway In Kanpur, 11 Of Them Less Than 30 Years Old; 10 In Critical Condition, Kanpur News, Kanpur Road Accident

कानपुर में दर्दनाक हादसा:हाईवे पर बस और टैम्पो की टक्कर में 18 की मौत, 11 की उम्र 30 साल से कम; केस दर्ज कराने पर अड़े ग्रामीणों ने अफसरों को दौड़ाया

कानपुर9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

उत्तर प्रदेश के कानपुर में मंगलवार देर रात बड़ा हादसा हो गया है। यहां के किसान नगर में हाईवे पर एसी बस और टेम्पो में भिड़ंत हो गई। इसमें अब तक 18 लोगों की मौत हो चुकी है। मरने वालों में 11 की उम्र 30 साल से भी कम थी। हादसे में करीब 15 लोग घायल हैं। इनमें 10 की हालत गंभीर बताई जा रही है। हादसे के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, गृह मंत्री अमित शाह समेत देश के कई बड़े नेताओं ने शोक व्यक्त की। प्रधानमंत्री मोदी ने PMNR फंड से मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए और घायलों को 50-50 हजार रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा की है। उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से भी मृतकों को 2-2 लाख रुपए मुआवजा दिया जाएगा।

पुलिस अफसरों से ग्रामीणों की धक्का-मुक्की भी हुई। ग्रामीण ठेकेदार पर केस दर्ज कराने की मांग पर अड़े हैं।
पुलिस अफसरों से ग्रामीणों की धक्का-मुक्की भी हुई। ग्रामीण ठेकेदार पर केस दर्ज कराने की मांग पर अड़े हैं।

घायलों को ले जाने के लिए एंबुलेंस भी कम पड़ गए
हादसे की सूचना मिलने के बाद पहुंची पुलिस ने एंबुलेंस बुलाई, लेकिन घायलों और मृतकों के शव इतने ज्यादा थे कि एंबुलेंस भी कम पड़ गए। आनन-फानन में रेस्क्यू टीम ने लोडर के जरिए कई घायलों को हैलट हॉस्पिटल पहुंचाया। हादसा उस वक्त हुआ, जब हाईवे पर DCM का ड्राइवर बस को ओवरटेक कर रहा था। इसी दौरान टेम्पो दोनों के बीच में फंस गया।

सभी मृतक एक ही गांव के
हादसे में जितने लोगों की मौत हुई है, उनमें सभी टेम्पो में सवार थे। उसमें करीब 18-19 लोग थे। सभी कानपुर के सचेंडी थानाक्षेत्र के लाल्हेपुर गांव के रहने वाले थे। बताया जाता है कि ये लोग एक बिस्किट फैक्टरी में काम करते थे। नाइट शिफ्ट में काम के लिए फैक्टरी जा रहे थे। इसी दौरान हादसा हो गया।

कानपुर से सूरत जा रही थी बस
जानकारी के अनुसार जय अंबे ट्रैवल्स की स्लीपर बस कानपुर से गुजरात के सूरत जा रही थी। इसमें करीब 115 लोग सवार थे। कानपुर से 15 किलोमीटर दूर बस जैसे ही किसान नगर पहुंची पीछे से एक DCM ने ओवरटेक करने की कोशिश की। इस दौरान सामने आ रहा टेम्पो बीच में फंस गया और ये हादसा हो गया। टेम्पो में सवार सभी लोगों की मौत होने की सूचना है। इसके अलावा बस में सवार कई लोगों की भी मौत हुई है।

एक साथ 7 शव लेकर अस्पताल पहुंचा लोडर
घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने घायलों को बाहर निकालना शुरू कर दिया है। इसके अलावा लोडर में भरकर कई शव अस्पताल पहुंचाए गए। एक लोडर में 7-7 शव रखकर हैलट अस्पताल लाए गए। दर्दनाक मंजर देखकर हर कोई सहम सा गया। हैलट अस्पताल प्रशासन की तरफ से अलर्ट जारी कर दिया गया है। डॉक्टर्स और मेडिकल स्टाफ को घर से वापस बुला लिया गया है।

मृतकों के नाम

1. गोलू परिहार पुत्र शिव लखन, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 22 वर्ष।

2. धनीराम पुत्र राम प्रसाद, निवासी ग्राम ईश्वरी गंज थाना सचेंडी, उम्र 55 वर्ष।

3 .बलवीर सिंह यादव पुत्र राम बहादुर यादव, निवासी ग्राम ईश्वरी गंज थाना सचेंडी, उम्र 50 वर्ष।

4 .सुरेंद्र यादव पुत्र अज्ञात, निवासी ग्राम ईश्वरी गंज थाना सचेंडी, उम्र 45 वर्ष।

5.अन्नू सिंह पुत्र भानु प्रसाद, निवासी ग्राम ईश्वरी गंज थाना सचेंडी, उम्र 18 वर्ष।

6. ज्ञानेंद्र सिंह परिहार पुत्र चंद्रपाल सिंह, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 50 वर्ष

7. धर्मराज सिंह पुत्र त्रिभुवन सिंह, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 22 वर्ष।

8 गौरव पुत्र त्रिभुवन, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 18 वर्ष।

9. राममिलन पुत्र धनीराम, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 22 वर्ष।

10 रजनीश पुत्र अनंतराम, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 20 वर्ष

11. नन्हू पासवान पुत्र कमलेश निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 22 वर्ष

12.करन सिंह पुत्र मेवा लाल, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 35 वर्ष।

13 राममिलन पुत्र धनी राम, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 24 वर्ष।

14.लवलेश पुत्र धनीराम, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 20 वर्ष।

15. शिवचरण पुत्र कमलेश, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 20 वर्ष।

16. उदय नारायण पुत्र राम भजन, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 55 वर्ष।

17. सुभाष पुत्र लक्ष्मी प्रसाद, निवासी ग्राम लाल्हेपुर थाना सचेंडी, उम्र 20 वर्ष।

गुस्साए ग्रामीणों ने अफसरों को दौड़ाया

ग्रामीण बिस्किट फैक्टरी के ठेकेदार को हादसे का दोषी मान रहे हैं। लेबर सप्लाई करने वाले ठेकेदार प्रकाश तोमर के प्रति ग्रामीणों में बहुत गुस्सा है। उनका आरोप है कि ठेकेदार पुराने कबाड़ टेम्पो से लेबरों को ले जाता था। अम्बा जी फूड्स प्राइवेट लिमिटेड में ठेकेदार का बड़ा भाई सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत है। बुधवार सुबह जब लालेपुर गांव में 13 शव और ईश्वरीगंज में 4 शव लाए गए तो ग्रामीणों का गुस्सा फूट पड़ा। ग्रामीणों की मांग है कि फरार ठेकेदार सामने आए। ग्रामीणों का कहना है कि एक टेम्पो में 24 ग्रामीणों को ले जाने के कारण ही यह दुर्घटना हुई है। अभी तक पुलिस द्वारा ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई है। इस दौरान ग्रामीणों को मनाने पहुंचे अफसरों को दौड़ा लिया गया।

बिठूर से क्षेत्रीय विधायक अभिजीत सिंह सांगा ने ग्रामीणों को समझाने के प्रयास किए। लेकिन ग्रामीणों का कहना है कि दोषी ठेकेदार को मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जाए। मृतकों के परिजनों को घर से एक सदस्य को नौकरी दी जाए। ग्रामीणों ने मुआवजा की राशि बढ़ाने की भी मांग की है। विधायक प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बातचीत करने की कोशिश में लगे हुए हैं। आक्रोशित ग्रामीणों ने शवों को रखकर अंतिम संस्कार नहीं करने का फैसला किया हुआ है।

खबरें और भी हैं...