कानपुर पुलिस कमिश्नर ने चार्ज संभाला:बोले...शांतिपूर्ण विधानसभा चुनाव कराना मेरी प्राथमिकता, सांप्रदायिक हिंसा नहीं होने देंगे और अभियान चलाकर अपराधियों पर करेंगे कार्रवाई

कानपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सीनियर IPS विजय सिंह मीणा ने कानपुर पुलिस कमिश्नर का चार्ज संभाला। - Dainik Bhaskar
सीनियर IPS विजय सिंह मीणा ने कानपुर पुलिस कमिश्नर का चार्ज संभाला।

कमिश्नरेट लागू होने के बाद कानपुर को दूसरे पुलिस कमिश्नर के रूप में सीनियर आईपीएस विजय सिंह मीणा ने शुक्रवार को चार्ज संभाल लिया। चुनावी आचार संहिता के दौरान तैनाती पर कहा कि उनकी प्राथमिकता शांति पूर्वक विधानसभा चुनाव संपन्न कराना है। इस दौरान सांप्रदायिक हिंसा नहीं होने देंगे और अपराधियों के खिलाफ अभियान चलाकर कार्रवाई करने की बात कही है।

सीनियर आईपीएस विजय सिंह मीणा चार्ज लेने के बाद पुलिस लाइन में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए।
सीनियर आईपीएस विजय सिंह मीणा चार्ज लेने के बाद पुलिस लाइन में प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए।

कानपुर में 2007 SP आर्थिक अपराध शाखा में थे तैनात
आईपीएस विजय सिंह मीणा को गुरुवार देर रात कानपुर का नया पुलिस कमिश्नर बनाया गया था। शुक्रवार को उन्होंने कार्यभार ग्रहण किया। इसके बाद पुलिस लाइन में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने बताया कि कानपुर उनके लिए नया शहर नहीं है। वह 2007 में एसपी ईओडब्ल्यू के पद पर कानपुर में सात महीने तैनात रह चुके हैं। मौजूदा समय में वह लखनऊ में विजिलेंस विभाग के ADG के पद पर तैनात थे। मूलरूप से जयपुर राजस्थान के रहने वाले हैं। वह 1996 बैच के आईपीएस अफसर हैं। इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से बीटेक की डिग्री हासिल कर चुके हैं। विजय सिंह मीणा इससे पहले लंबे समय तक वाराणसी रेंज के आईजी रह चुके हैं। पिछले वर्ष एडीजी के प्रमोशन के बाद उन्हें वाराणसी से ट्रांसफर करके विजिलेंस में एडीजी बना गया था।

सर्विस में मेडल की झड़ी
आईपीएस विजय सिंह मीणा को सन्- 2013 में उन्हें प्राइम मिनिस्टर मेडल, सन 2015 में प्राइम मिनिस्टर गोल्ड मेडल, सन 2018 में डीजी कमनडेशन डिस्क (सिल्वर), सन 2019 में डीजी कमनडेशन डिस्क (गोल्ड) और सन 2021 में डीजी कमनडेशन डिस्क (प्लेटिनम) से सम्मानित किया जा चुका है।

कई जिलों में कप्तानी में संभाल चुके हैं पुलिस कमिश्नर
एडीजी से पहले विजय सिंह मीणा आईजी जोन विंध्याचल के पद पर तैनात रहे हैं। इसके पूर्व आईजी लोक शिकायत लखनऊ, आईजी बरेली जोन, डीआईजी आजमगढ़ और बरेली, एसपी मुरादाबाद, आजमगढ़, फतेहपुर, कन्नौज, एटा, बुलंद शहर, एसएसपी इलाहाबाद व वर्ष 2003 में भदोही जनपद में एसपी के पद पर तैनात रहे हैं।

खाकी के व्यवहार को भी लेकर सतर्क
पुलिस आयुक्त पुलिस कर्मियों के व्यवहार को लेकर भी सतर्क हैं। उनका कहना है कि अच्छा व्यवहार अच्छे इंसान की पहचान है। अच्छे व्यवहार से ही पुलिस की छवि को चमकाया जा सकता है। इसके अलावा आपराधिक छवि वालों को उन्होंने सलाखों के पीछे भेजने की बात भी कही।